Tue 24 05 2022
Home / Breaking News / डांसी कब्रिस्तान में जालियां लगाने का कार्य हुआ मुकम्मल, समाजजनों का किया सम्मान
डांसी कब्रिस्तान में जालियां लगाने का कार्य हुआ मुकम्मल, समाजजनों का किया सम्मान

डांसी कब्रिस्तान में जालियां लगाने का कार्य हुआ मुकम्मल, समाजजनों का किया सम्मान

शाजापुर। शहर के सबसे बड़े कब्रिस्तान में समाज के सहयोग से जालियां लगाने का कार्य पूरा हुआ। इस दौरान जालियां लगवाने के लिए समाज को प्रेरित करने वालों का पुष्पमाला पहनाकर सम्मान किया गया। गौरतलब है कि 5 जून 2021 को डांसी कब्रिस्तान में जालियां लगाने के काम की शुरूआत की गई थी, जो समाज की लोगों की मेहनत से मुकम्मल हुआ। काम पूरा होने पर सज्जाद कुरैशी, अनवर खान का समाज के लोगों ने पुष्पमाला पहनाकर स्वागत किया। कुरैशी ने बताया कि डांसीपुरा कब्रिस्तान पूर्व और पश्चिम दो भागों में बंटा हुआ है, जिसमें से पूर्वीय भाग में जालियां लगाने का काम विगत दिनों समाज के लोगों से मिले सहयोग की वजह से पूरा हो गया था। जबकि पश्चिमि क्षेत्र का काम गुरुवार को पूरा  हुआ। इस दौरान नायब काजी रहमतुल्लाह ने कहा कि जालियों के लगने से आवारा मवेशियों और नशेडिय़ों का कब्रिस्तान में प्रवेश बंद हो गया है। उन्होने कहा कि विगत कई माह से कब्रिस्तान में जालियों को लगाने का काम चल रहा था, जिसके मुकम्मल करने में समाज के लोगों का भरपूर सहयोग मिला। इसीके साथ जालियां लगाने में साबिर बाबा, सज्जू खान और जाफर खान की सराहनीय भूमिका रही, जिन्होने दिनभर रहकर जालियां लगाने का काम पूरी ईमानदारी के साथ किया।
पुष्पमाला पहनाकर किया सम्मान
कब्रिस्तान के कायाकल्प में पूरी लगन और ईमानदारी के साथ डटे रहने वाले सज्जाद कुरैशी, अनवर खान, साबिर बाबा, सज्जू खान और जाफर खान की नायब काजी सहित समाजजनों ने सराहना की। इसीके साथ पुष्पमाला कर स्वागत सम्मान किया गया। कुरैशी ने बताया कि कब्रिस्तान में जालियां लगाने का काम पूरा हो चुका है। समाज के लोगों के साथ तालमाल कर आगामी दिनों में कब्रिस्तान के कायाकल्प को लेकर अन्य कार्य की शुरू की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*