Thu 09 04 2020
Home / Breaking News / जमीनी विवाद में हत्या करने के उद्देश्य से फायरिंग करने वाला मुख्य आरोपी गिरफ्तार
जमीनी विवाद में हत्या करने के उद्देश्य से फायरिंग करने वाला मुख्य आरोपी गिरफ्तार

जमीनी विवाद में हत्या करने के उद्देश्य से फायरिंग करने वाला मुख्य आरोपी गिरफ्तार

कोतवाली पुलिस ने अवैध बंदूक सहित आरोपी को धर दबोचा
शाजापुर। जमीन विवाद में अपने साथियों के साथ मिलकर हत्या करने के उद्देश्य से फरियादी को गोली मारने वाले मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही अवैध बंदूक भी पुलिस ने बरामद कर ली है। प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला मुख्यालय से लगभग 11 किमी दूर ग्राम गोपीपुर लोहरवास में 21 अक्टूंबर 18 को जगदीश पिता शंकरलाल गुर्जर, रामचरण पिता जगदीश, रामकुंवरबाई

पति जगदीश का गांव के ही आरोपी ईश्वरसिंह पिता बाबूलाल, तूफानसिंह और प्रेमसिंह के बीच खेती की जमीन को लेकर विवाद हो गया था। इस विवाद के दौरान आरोपी ईश्वरसिंह, तूफानसिंह और प्रेमसिंह ने हत्या की नीयत से अवैध बंदूक से गोलियां चलाना शुरू कर दिया था जिसमें फरियादी सहित चार लोग घायल हो गए थे। घटना के बाद मुख्य आरोपी ईश्वरसिंह गुर्जर मौके से फरार हो गया था जिसे कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। कोतवाली थाना प्रभारी कन्हैयालाल दांगी ने बताया कि ग्राम गोपीपुर में जमीनी विवाद में दो पक्षों में झगड़ा हो गया था, और इस विवाद के दौरान आरोपी ईश्वर गुर्जर ने फरियादी रामचरण गुर्जर पर हत्या करने के उद्दैश्य से अपने साथियों के साथ मिलकर अवैध बंदूक से फायरिंग कर दी थी। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया था जिस पर पुलिस अधीक्षक शैलेंद्रसिंह चौहान ने आरोपी को शीघ्र ही गिरफ्तार करने के निर्देश दिए थे, जिसके तहत आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर प्रयास किए जा रहे थे और अंत में सफलता भी मिली और हत्या के प्रयास का आरोपी ईश्वरसिंह अवैध बंदूक सहित गिरफ्तार कर लिया गया। साथ ही आरोपी से प्रकरण में इस्तेमाल अवैध बारह बोर की बंदूक भी जब्त की गई है। वहीं आरोपी से पूछताछ की जा रही है कि वह उक्त बंदूक कहां से लाया था।
एक सप्ताह की कड़ी मेहनत के बाद धराया आरोपी
ग्राम गोपीपुर लोहरवास में जमीनी विवाद को लेकर अवैध बंदूक से प्राणघातक हमला करने के बाद आरोपी ईश्वरसिंह गुर्जर मौके से फरार हो गया था, जिसके बाद से कोतवाली पुलिस थाना प्रभारी दांगी के नेतृत्व में आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए लगातार दबिश दे रही थी। आखिरकार एक सप्ताह की कड़ी मेहनत के बाद आरोपी ईश्वर गुर्जर को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं आरोपी के पास से अवैध बंदूक भी जब्त की गई। उक्त कार्र्रवाई में उनि नरेन्द्र कुशवाह, उनि एनिम टोप्पो, उनि एएम पठान, उनि दीपेश व्यास, सउनि मेवाराम सखवार, सउनि केदार पटेल, प्रआर शांतीलाल, आर प्रदीप सिकरवार, कृष्णपाल, रामबहादुर, आरक्ष्,ाक मनोज, संजय शर्मा की महत्वपूर्ण भूमिका रही।