Sun 29 11 2020
Home / Breaking News / वीडियो कांफ्रेंसिंग से 12 ग्राम पंचायतों के सरपंचो एवं ग्रामीणों से चर्चा
वीडियो कांफ्रेंसिंग से 12 ग्राम पंचायतों के सरपंचो एवं ग्रामीणों से चर्चा

वीडियो कांफ्रेंसिंग से 12 ग्राम पंचायतों के सरपंचो एवं ग्रामीणों से चर्चा

   शाजापुर,कलेक्टर श्री  दिनेश जैन ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए आज जिले की जनपद पंचायत शाजापुर की ग्राम पंचायत मालीखेड़ी, तिलावद गोविन्द एवं सेतखेड़ी, जनपद पंचायत मो. बड़ोदिया की ग्राम पंचायत सारसी, मण्डोदा एवं डोकरगांव, जनपद पंचायत कालापीपल की ग्राम पंचायत सेमलिया, पारदाखेड़ी एवं बड़बेली तथा जनपद पंचायत शुजालपुर की ग्राम पंचायत मोरटाकेवड़ी, टपका बसंतपुर तथा टीटवास इस प्रकार कुल 12 ग्राम पंचायतों के सरपंचो सहित आमजनों से चर्चा कर ग्रामीण क्षेत्रों की समस्याओं की जानकारी ली।

            वीडियो कांफ्रेंसिंग में शामिल ग्राम तिलावद गोविन्द सरपंच ने पीने की पानी की समस्या से अवगत कराया। कलेक्टर ने महिला सरपंच से कहा कि आंगनवाड़ी केंद्रों का निरीक्षण कर देखें कि बच्चों को पोषण आहार का वितरण और टीकाकरण हो रहा है कि नहीं तथा सभी बालिकाओं के नाम दर्ज हैं कि नहीं यह भी देखें। सेमलिया सरपंच ने बताया कि भैसायगढ़ा सोसायटी से खाद प्राप्त करने में दिक्कत आ रही है, श्मशान में जाने का रास्ता नहीं है और अनुसूचित जाति बस्ती में विद्युत ट्रांसफार्मर खराब है, आयुष विभाग का अस्पताल क्षतिग्रस्त है तथा कपिलधारा कूप की राशि नहीं मिली है। बड़बेली सरपंच ने बताया कि उनके ग्राम में बीमे की राशि कम मिली है। हैण्डपंप मैकेनिक नहीं आ रहे हैं। डोकरगांव सरपंच ने बताया कि विद्युत ट्रांसफार्मर पर ज्यादा लोड होने से विद्युत सप्लाई में अवरोध हो रहा है। सेतखेड़ी सरपंच ने बताया कि ग्राम में पानी की समस्या है। शेड निर्माण की राशि अभी तक प्राप्त नहीं हुई है। बेरछा से खेड़ा तक का सड़क मार्ग अतिक्रमण के कारण नहीं बन पा रहा है, नलकूप खनन के पश्चात उसमें हैंडपंप नहीं लगाया गया। पारदाखेड़ी सरपंच ने बताया कि उपस्वास्थ्य केन्द्र भवन निर्माण का कार्य अब तक शुरू नहीं हुआ है। प्रायमरी स्कूल का भवन एवं स्टॉप डेम क्षतिग्रस्त है और बिजली के खंबे भी झुके हुए हैं। मंडोदा सरपंच ने बताया कि ग्राम की सड़क जर्जर है, रास्ते पर अतिक्रमण है, विद्यालय तक पहुंचने के लिए एक पुलिया की आवश्यकता है और अनुसूचित जाति मोहल्ले के उपर से बिजल के तार नीचे झूल रहें हैं, इससे कभी भी खतरा हो सकता है। गांव के दो व्यक्तियों की खाद्यान्न पर्ची नहीं निकली है। मोरटाकेवड़ी सरपंच ने अतिक्रमण की समस्या से अवगत कराया। साथ ही आबादी के लिए भूमि प्रदान करने के लिए कहा। इसी तरह ग्राम पंचायत सारसी, टीटवास, टपका बसंतपुर एवं मालीखेड़ी सरपंचो ने भी समस्याओं से अवगत कराया।

            समस्याओं को सुनकर कलेक्टर ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारी को ग्रामों में हैंण्डपंप मैकेनिकों को भेजने तथा इसके लिए कैलेंडर तैयार करने के निर्देश दिये। मनरेगा की राशि नहीं मिलने के संबंध में कलेक्टर ने परियोजना अधिकारी श्री आरपी भारती को राशि प्रदाय की कार्रवाई करने के निर्देश दिये। खाद्यान्न पर्ची के नहीं मिलने की शिकायत का निराकरण करने के लिए कलेक्टर ने खाद्य विभाग के अधिकारी को तथा अतिक्रमण की समस्या का हल करने के लिए संबंधित तहसीलदारों को निर्देशित किया।

            कलेक्टर ने कहा कि ग्राम पंचायतों से मिलने वाली शिकायतो का त्वरित निराकरण किया जायेगा। कलेक्टर ने सरपंचो से कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए सुरक्षात्मक उपाय अपनाने के लिए ग्रामीणों को सतत् प्रेरित करते रहें। कलेक्टर ने ग्रामों की पेयजल समस्या, आंगनवाड़ियों द्वारा सूखा खाद्यान्न वितरित करने, उचित मूल्य की दुकानों से खाद्यान्न प्राप्त होने, पशुओं के बीमा आदि से संबंधित जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर सभी ग्राम पंचायतों के सरपंचो ने पेयजल, सड़क, बीमा क्लेम नहीं मिलने, ट्रांसफार्मर की आवश्यकता आदि के बारे में अवगत कराया।

            इस अवसर पर पीएचई से सुश्री रश्मि शर्मा, कार्यपालन यंत्री विद्युत श्री एसएन मरकाम एवं जिला पंचायत से श्री आरपी भारती एवं श्री आनंद राघव तिवारी भी उपस्थित थे। ई-गवर्नेन्स सहायक मैनेजर सुश्री तंजीला खान ने वीडियो कांफ्रेंसिंग की व्यवस्था की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*