Tue 17 05 2022
Home / Breaking News / पर्याप्त वैक्सीन नही होने और अव्यवस्था के चलते बढ़ी परेशानी
पर्याप्त वैक्सीन नही होने और अव्यवस्था के चलते बढ़ी परेशानी

पर्याप्त वैक्सीन नही होने और अव्यवस्था के चलते बढ़ी परेशानी

कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज नही लगने से परेशान लोग
शाजापुर। कोरोना से बचना है तो टीका जरूर लगवाना है। इन्ही नारों के साथ जिलेभर के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रशासन द्वारा जागरूक किया जा रहा है, लेकिन वैक्सीनेशन केंद्रों पर व्यवस्था को सुधारने के लिए जिम्मेदारों द्वारा पुख्ता इंतजाम नही किए जा रहे हैं। नतीजतन टीका करण के लिए प्रेरित होकर केंद्रों पर पहुंचने वाले लोगों को समय पर वैक्सीन नही लग पा रही है और उन्हे घंटों परेशान होने के बाद बिना वैक्सीन लगवाए ही घर लौटना पड़ रहा है। उल्लेखनीय है कि कोविड 19 को हराने के लिए शहर के बाशिंदे वैक्सीनेशन कराने के लिए निर्धारित समय पर टीका करण केंद्रों पर पहुंच रहे हैं, परंतु अव्यवस्था के चलते उन्हे घंटों इंतजार के बाद भी टीका लग नही पा रहा है। यही कारण है कि शाजापुर जिला मुख्यालय पर ही कोरोना बचाव की वैक्सीन के पहले डोज की समयावधि निकलने के बाद भी दूसरे टीके का डोज लोगों को समय पर नहीं लग सका है। जिन लोगों को पहला डोज लग चुका है उन्हे 1 जुलाई को दूसरा डोज लगना था, किंतु दिनभर के इंतजार के बाद उन्हे 5 जुलाई को वैक्सीन लगाने का कहकर चलता कर दिया गया। इसके बाद जब 5 जुलाई को लोग केंद्र पर वैक्सीन का दूसरा डोज लगवाने के लिए पहुंचे तो चार घंटे तक इंतजार करने के बाद भी उन्हे वैक्सीन नहीं लग पाई और जिम्मेदारों ने लोगों को घर जाने को कह दिया। इस बात से नाराज कर्ई लोगों ने केंद्र पर मौजूद स्वास्थ्य कर्मचारियों को खरीखौटी भी सुनाई।
दूसरा डोज नही लगने से परेशान लोग
उलेखनीय है कि शाजापुर जिले में महा अभियान चलाकर कोरोना बचाव वैक्सीन लगाने का काम शुरू किया गया, लेकिन इस अभियान में वैक्सीन की कमी और स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। शाजापुर जिला मुख्यालय पर ही वैक्सीन की कमी साफ नजर आ रही है। यही वजह है कि अप्रैल माह में जिन लोगों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लगा था उन्हे 84 दिन बीत जाने के बाद भी जुलाई माह में दूसरा डोज नही लग सका है। शाजापुर के नगरपालिका परिसर स्थित मांगलिक भवन और उत्कृष्ट विद्यालय में बनाए गए सेंटर पर मौजूद लोगों ने बताया कि जिम्मेदारो की ओर से शहर में वैक्सीन के दूसरे डोज के लिए अनाउंसमेंट कराया गया था, जिसके बाद वैक्सीनेशन सेंटर पर जब पहुंचे तो घंटों इंतजार के बाद भी बिना वैक्सीन लगवाए ही घर लौटना पड़ा। सबसे ज्यादा परेशानी वृद्धों को उठानी पड़ी।
वैक्सीन डोज कम है
कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज बहुत लोगों को लगना बाकि है। हमारा प्रयास है कि सभी को वैक्सीन लग जाए, लेकिन पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन नही मिलने से अव्यवस्था है। जैसे-जैसे हमें डोज का स्टॉक मिलता है, वैसे-वैसे हम लोगों को वैक्सीन लगा रहे हैं।
-डॉ दीपक पिप्पल, जिला टीका करण अधिकारी शाजापुर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*