Fri 03 12 2021
Home / Breaking News / ट्राली में सवार होकर अस्पताल जा रहे दंपत्ति पानी में बहते-बहते बचे
ट्राली में सवार होकर अस्पताल जा रहे दंपत्ति पानी में बहते-बहते बचे

ट्राली में सवार होकर अस्पताल जा रहे दंपत्ति पानी में बहते-बहते बचे

शाजापुर। बादलों के बरसने से जहां फसलों में राहत दिखाई दे रही है तो वहीं जिले के कई गांव के ग्रामीण कच्ची सडक़ें और नालों पर पुलिया नही होने से परेशान हैं। हर साल बारिश के दिनों में मुसीबत का सबब बनने वाले बिना पुलिया के नाले इस वर्ष भी गांव के लोगों के लिए अस्पताल तक पहुंचने में भी बाधक बने हुए हैं। नतीजतन गांव के लोगों को जान जोखिम में डालकर नाला पार करना पड़ रहा है, जिससे बड़े हादसे का अंदेशा बना हुआ है। मोमन बड़ोदिया क्षेत्र के उस्मानखेड़ी में इलाज कराने जा रहे वृद्ध दंपत्ति नाले में ट्रैक्टर-ट्राली सहित बह गए। हालांकि मौके पर ग्रामीणों के मौजूद होने से दंपत्ति को सुरक्षित नदी से बाहर निकाल लिया गया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम उस्मानखेड़ी निवासी सउजीराम और उनकी पत्नी शैतानबाई का स्वास्थ्य खराब होने पर गांव के लोग उन्हें ट्रैक्टर-ट्राली में बैठाकर अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन लगातार बारिश के चलते गांव में पडऩे वाले नाले में पानी का बहाव तेज था और गांव से बाहर जाने का कोई और रास्ता भी नही है, जिसकी वजह से ग्रामीण ट्राली से नाला पार कर रहे थे, तभी अचानक नाले में पानी बढ़ गया और ट्रैक्टर-ट्राली बहने लगी। इस दौरान दंपत्ति के अलावा ट्राली में सवार करीब 5 लोगों ने शोर मचाना शुरू किया जिसे सुनकर वहां लोग एकत्रित हो गए और एक-एक कर लोगों को बाहर निकाला। इसके बाद चालक भी ट्रैक्टर-ट्राली छोडक़र बाहर आ गया। इसके बाद लोगों ने पुलिस प्रशासन को इसकी सूचना दी, जिसके बाद मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों व अन्य कर्मचारियों ने जेसीबी को मौके पर बुलवाकर घंटों की मशक्कत के बाद ट्रैक्टर-ट्राली को नाले से बाहर निकलवाया।
पुलिया को लेकर कई बार शिकायत कर चुके हैं ग्रामीण
गांव के बुजुर्ग दंपति के साथ हुए हादसे से ग्रामीणों में खासा रोष है। ग्रामीणों का कहना है कि उन्होने कई बार जिम्मेदार अधिकारियों से पुलिया निर्माण के लिए आग्रह किया है, लेकिन शिकायत के लगातार करने के बावजूद पुलिया का निर्माण नही किया गया है। बारिश की वजह से नाला उफान पर रहता है और गांव के लोगों को हर साल जान पर खेलकर उसे पार कर गंतव्य तक पहुंचना पड़ता है। ग्रामीणों का कहना है कि भविष्य में यदि कोई बड़ा हादसा हुआ तो इसकी पूरी जिम्मेदारी प्रशासन की रहेगी।
24 घंटों में 48.5 मिमी औसत वर्षा
जिले में गुरुवार सुबह 8 बजे तक 48.5 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक सर्वाधिक वर्षा तहसील शाजापुर में 95.5 मिमी हुई है। इसी तरह मोमन बड़ोदिया में 51 मिमी, शुजालपुर में 26 मिमी, कालापीपल में 8 मिमी एवं गुलाना में 62 मिमी वर्षा दर्ज हुई है। इस प्रकार 01 जून से अब तक शाजापुर में 614 मिमी, मोमन बड़ोदिया में 877 मिमी, शुजालपुर में 766 मिमी, कालापीपल में 700 मिमी एवं गुलाना में 584 मिमी, इस प्रकार कुल 708.2 मिमी औसत वर्षा हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*