Tue 30 11 2021
Home / Breaking News / सोयाबीन फसल में हुए नुकसान का अब तक नही मिला मुआवजा, तहसील कार्यालय के चक्कर लगा रहे किसान
सोयाबीन फसल में हुए नुकसान का अब तक नही मिला मुआवजा, तहसील कार्यालय के चक्कर लगा रहे किसान

सोयाबीन फसल में हुए नुकसान का अब तक नही मिला मुआवजा, तहसील कार्यालय के चक्कर लगा रहे किसान

सोयाबीन फसल में हुए नुकसान का अब तक नही मिला मुआवजा, तहसील कार्यालय के चक्कर लगा रहे किसान

शाजापुर।  जिम्मेदारों की उदासीनता के चलते जिले के कई गांव के किसानों को सोयाबीन में हुए नुकसान का मुआवजा अब तक नही मिला सका है। जबकि अन्य किसानों के खातों में मुआवजे की दूसरी किश्त भी पहुंच चुकी है। परेशान किसानों का आरोप है कि पटवारी और तहसील कार्यालय के जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही के कारण सैकड़ों किसानों को मुआवजा नही मिल सका है और किसानों को विभाग के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। ग्राम पिपलोदा इस्माइल तहसील गुलाना के बाबूलाल, रमेशचंद्र परमार ने बताया कि कृषि भूमि सर्वे नंबर 15, 36, 37 एवं 25 के शामिल किसानों को अब तक सोयाबीन फसल नुकसानी का मुआवजा नही दिया गया है, जबकि हल्के के पटवारी को सारे दस्तावेज उपलब्ध करा दिए थे, लेकिन इसके बावजूद किसानों के खातों में मुआवजे की राशि जमा नही की गई है।
मुआवजे के लिए 100 किसान लगा रहे चक्कर
उल्लेखनीय है कि जिम्मेदारों की लापरवाही के कारण ग्राम पिपलोदा इस्माईल और नौलाया के करीब 100 किसानों को प्राकृतिक आपदा से खराब हुई सोयाबीन फसल का अब तक मुआवजा नही मिल सका है। कृषक राकेश प्रजापति, परमानंद परमार, मलकिश परमार, यशपाल परमार ने बताया कि लगभग 100 किसानों के खाते में मुआवजे की राशि जमा नही की गई है, जिसके कारण तहसील कार्यालय और पटवारी के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। जबकि बाकि किसानों के खातों में मुआवजे की दूसरी किश्त भी जमा की जा चुकी है। किसानों ने बताया कि उन्होने मामले में जिला प्रशासन को लिखित में शिकायत कर मुआवजा दिए जाने की मांग की है।
इनका कहना है
मेरी तरफ से कोई गलती नही हुई है, आवंटन समाप्त हो जाने के कारण किसानों के खाते में मुआवजे की राशि जमा नही की जा सकी है। जल्द ही आवंटन आने पर किसानों को मुआवजा मिल जाएगा।
राधेश्याम मालवीय, पटवारी, पिपलोदा इस्माईल।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*