Tue 30 11 2021
Home / Breaking News / सात माह के किराए के नाम पर दिया 1 रुपया, आक्रोशित वेयर हाउस संचालक करेंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल
सात माह के किराए के नाम पर दिया 1 रुपया, आक्रोशित वेयर हाउस संचालक करेंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल

सात माह के किराए के नाम पर दिया 1 रुपया, आक्रोशित वेयर हाउस संचालक करेंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल

शाजापुर। जिम्मेदारों के द्वारा किराए के नाम पर वेयर हाउस संचालकों के खेतों में एक रुपए जमा कराए गए जिससे वेयर हाउस संचालकों में आक्रोश व्याप्त है और उन्होने आंदोलन की चेतावनी दी है। दरअसल जिले के वेयर हाउस संचालकों को पहले तो करीब सात माह के किराए का जिम्मेदारों द्वारा भुगतान नही किया गया और यह मामला तब राज्य मंत्री इंदरसिंह परमार तक पहुंचा तो वेयर हाउस संचालकों के खातों में किराए के नाम पर महज एक रुपए से लेकर 50 रुपए तक जमा करा दिए गए। परेशान और आक्रोशित वेयर हाउस संचालक कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और ज्ञापन सौंपकर आंदोलन की चेतावनी दी। उज्जैन संभागीय निजी वेयर हाऊस ऑनर्स एसोसिएशन के बैनरतले जिले के वेयर हाउस संचालक गुरुवार को कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपकर बताया कि अनाज रखने के लिए प्रशासन द्वारा निजी वेयर हाउसों को किराए पर लिया गया था जिसका माह अगस्त 2020 से फरवरी 2021 तक के किराए का भुगतान अब तक नही किया गया है। वेयर हाउस संचालकों ने बताया कि उन्होने भुगतान नही होने की गतदिनों राज्यमंत्री परमार से ज्ञापन सौंपकर शिकायत की थी, जिसके बाद अधिकारियों ने सक्रियता तो दिखाई, लेकिन उन्होने 31 मार्च को वेयर हाउस संचालकों के खातों में 1 रुपए से लेकर 50 रुपए की हास्यप्रद राशि जमा करा दी जिससे संचालक क्षुब्ध हो उठे हैं और आंदोलन की तैयारी कर रहे हैं।
अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे वेयर हाउस संचालक
उल्लेखनीय है वेयर हाउस संचालकों को विगत सात माह से प्रशासन द्वारा किराए का भुगतान नही किया गया। इस मामले की संचालकों ने राज्यमंत्री परमार से शिकायत की तो जिम्मेदारों ने संचालकों के खातों में किराए के नाम पर एक रुपए, तीन रुपए, 5 रुपए और 50 रुपए जमा करा दिए। जिम्मेदारों द्वारा भुगतान के नाम पर की गई इस लापरवाही से वेयर हाउस संचालक क्षुब्ध हैं और इसीके चलते उन्होने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर शीघ्र ही भुगतान किए जाने की मांग की। वेयर हाउस संचालकों ने बताया कि वे 1 रुपए और 3 रुपए की राशि से आहत हैं और इसीके विरोध में 5 अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*