Fri 03 12 2021
Home / Breaking News / सरकारी नर्सरियों को नया रूप दे रही हैं स्वसहायता समूह की महिलाएं
सरकारी नर्सरियों को नया रूप दे रही हैं स्वसहायता समूह की महिलाएं

सरकारी नर्सरियों को नया रूप दे रही हैं स्वसहायता समूह की महिलाएं

जो महिलाए मजदूरी का कार्य करती थी वे आज आत्मनिर्भर बनने की ओर अग्रसर हैं

शाजापुर,  मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती मिशा सिंह के मार्गदर्शन में उद्यानिकी विभाग की नर्सरियो को नरेगा अभिसरण अंतर्गत देखभाल व विकास के लिए राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन जिला शाजापुर के स्व सहायता समूह की महिलाओं को भागीदार बनाया गया हैं।

नर्सरियो को नया रूप देने के लिए समूह की महिलाए लगी हुई हैं विकासखंड मोमन बडोदिया ग्राम करजू की अन्नपूर्णा स्व सहायता समूह की 12 महिला सदस्य कार्य में लगी हुई हैं। समूह की अध्यक्ष श्रीमती अनीता बाई बताती हैं की पिछले वर्ष शासन द्वारा हमें इस नर्सरी को सोंपा गया था, जिसकी साफ़-सफाई, निंदाई, गुड़ाई कर जगह तैयार की गई नर्सरी तैयार करने हेतु बीज उपचार कर 21 हजार पौधे के बीज रोपने का कार्य किया गया था। वर्तमान में नर्सरी में लगभग 12 हजार पौधे विक्रय हेतु तैयार किये जा चुके हैं! जिसमे अमरुद, बांस, गुलमोहर, सीताफल, आंवला, निम्बू, के साथ अनेक प्रजातियाँ उपलब्ध हैं! विक्रय हेतु नर्सरी में 20 से 50 रूपये तक के पौधे उपलब्ध हैं। आगामी एक माह में लगभग 21 हजार पौधे विक्रय हेतु नर्सरी में तैयार हो जायेंगे। समूह द्वारा नर्सरी में लगभग एक लाख पौधे तैयार करने की कार्य योजना हैं।

शासन द्वारा किये गए नवाचार से महिलाए खुश हैं की पूर्व में जो महिलाए मजदूरी का कार्य करती थी वे आज आत्मनिर्भर बनने की ओर अग्रसर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*