Fri 03 12 2021
Home / Breaking News / लोगों की सुरक्षा के लिए ही सडक़ सुरक्षा नियम बने हैं-कलेक्टर
लोगों की सुरक्षा के लिए ही सडक़ सुरक्षा नियम बने हैं-कलेक्टर

लोगों की सुरक्षा के लिए ही सडक़ सुरक्षा नियम बने हैं-कलेक्टर

शाजापुर। 32वें सडक़ सुरक्षा माह 2021 के अंतर्गत सडक़ एवं परिवहन मंत्रालय के सौजन्य से स्थानीय बस स्टेंड पर ग्राम विकास शिक्षा समिति बोड़ा जिला राजगढ़ द्वारा मंगलवार को प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस दौरान कलेक्टर दिनेश जैन, पुलिस अधीक्षक पंकज श्रीवास्तव, संस्था के अध्यक्ष महेश सोनी भी मौजूद थे। कार्यक्रम को कलेक्टर जैन ने संबोधित करते हुए कहा कि लोगों की सुरक्षा के लिए ही सडक़ सुरक्षा नियम बने हैं। सभी को नियमों का पालन करना चाहिए। नियमों का पालन नहीं करने के कारण अक्सर दुर्घटनाएं हो

जाती हैं, जिसमें जानमाल का नुकसान भी हो जाता है। थोड़ी सी लापरवाही से लोगों को स्वयं एवं उनके परिवार को कष्ट उठाना पड़ता है। वाहनों के चलाने में सभी लोग सावधानियां बरतें। बच्चों को वाहन नहीं चलाने दें। उन्होने कहा कि यदि कोई व्यक्ति दुर्घटना में घायल होता है तो उसकी सूचना तत्काल दें। समय पर सूचना देने से दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति की जान बच सकती है। सूचना देने वाले के विरूद्ध कोई कार्रवाई नहीं होती है। उन्होने प्रतियोगिताएं आयोजित करने के लिए परिवहन, यातायात पुलिस को बधाई दी। वहीं पुलिस अधीक्षक ने कहा कि बच्चों को बचपन से ही सडक़ पर चलने के नियमों की जानकारी देना चाहिए। सडक़ पर चलने के दौरान नियमों का पालन अनिवार्यत: करें। उन्होने कहा कि नियमों का पालन नहीं करने के कारण दुर्घटनाएं होती हैं। हमारे देश में प्रतिवर्ष लगभग 1.5 लाख लोगों की मौत सडक़ दुर्घटनाओं में हो जाती है। ये दुर्घटनाएं नियमों का पालन नही करने और लापरवाही से वाहन चलाने के कारण होती है। दुर्घटनाएं रोकने के उद्देश्य से जो नियमों का पालन नहीं करते हैं उनके विरूद्ध दंडात्मक कार्रवाई की जाती है, ताकि व्यक्ति में सुधार आए। नियमों की जानकारी शिक्षा का एक अंग होना चाहिए। उन्होने कहा कि दो पहियां वाहन चलाते समय हेलमेट अवश्य लगाएं, कार या अन्य बड़े वाहन चलाने पर सीट बेल्ट लगाएं। साथ ही 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को माता-पिता वाहन चलाने नहीं दें। इस मौके पर अंकुर गुप्ता, मनोज बामने, ऋषभ मरावी, राखी अहिरवार, दानिश खान, राजकुमार ने सडक़ सुरक्षा से संबंधित नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया। मंच से पूछे गए प्रश्नों का सही उत्तर देने वाले को हेलमेट एवं टीशर्ट भी प्रदान किए गए। साथ ही विगत दिवस महाविद्यालय एवं विद्यालय में क्विज एवं चित्रकलां प्रदर्शनी में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*