Sat 11 07 2020
Home / Breaking News / 09 परीक्षा केन्द्रों पर संपन्न हुई राज्य सेवा एवं राज्य वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा
09 परीक्षा केन्द्रों पर संपन्न हुई राज्य सेवा एवं राज्य वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा

09 परीक्षा केन्द्रों पर संपन्न हुई राज्य सेवा एवं राज्य वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा

शाजापुर। राज्य सेवा एवं राज्य वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा रविवार को जिले के 9 परीक्षा केन्द्रों पर भारी सुरक्षा इंतजाम के बीच संपन्न हुई। परीक्षा के दौरान किसी तरह की गड़बड़ी न हो इसको लेकर उडऩदस्ते और ऑब्जर्वर केंद्रों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लेते रहे। उल्लेखनीय है कि राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा के लिए जिला मुख्यालय पर इस बार 9 परीक्षा केन्द्र बनाए गए थे, जिनमें दो सत्रों में परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई। प्रथम सत्र सुबह 10 बजे से 12 बजे तक आयोजित किया गया। वहीं द्वितीय सत्र दोपहर 02.15 बजे से शाम 04.15 बजे तक संपन्न हुआ। परीक्षा केंद्रों का अपर कलेक्टर मंजूषाविक्रांत राय के साथ ऑब्जर्वर ने भी निरीक्षण किया। साथ ही परीक्षा केंद्रों पर व्यवस्था का जायजा लेने के लिए बनाए गए उडऩदस्ते भी निरीक्षण करते रहे। वहीं सुरक्षा के मद्देनजर सातों केंद्रों पर पुलिस बल तैनात किया गया था। परीक्षा के दौरान किसी तरह की कोई अशांति नही फैली और न ही किसी तरह का कोई नकल प्रकरण बनाया गया।
पीएससी परीक्षा के लिए बड़ा रूझान
गौरतलब है कि इस वर्ष पीएससी परीक्षा के प्रति जिले के विद्यार्थियों का रूझान बढ़ा है। यही कारण है कि हर बार होने वाली परीक्षा के लिए जहां जिले में तीन से चार परीक्षा केंद्र बनाए जाते रहे हैं तो वहीं इस बार इनकी संख्या बढ़ाकर 9 की गई थी। जिले के शासकीय बीएसएनपीजी कॉलेज, शासकीय महारानी लक्ष्मीबाई कन्या उमावि, शासकीय उत्कृष्ट उमावि क्रमांक-1, सरस्वती हायर सेकेंडरी स्कूल दुपाड़ा रोड, महर्षि विद्या मन्दिर, एमजी कान्वेंट स्कूल, कौटिल्य एकेडमी, सहज पब्लिक स्कूल, शासकीय उमावि क्रमांक-2 पर परीक्षा संपन्न हुई। उल्लेखनीय है कि परीक्षा केंद्रों में प्रवेश के पूर्व परीक्षार्थियों की तलाशी ली गई। परीक्षा कक्ष में जैकेट/कोट पूर्णत: वर्जित रहे। हालांकि मौसम के बेहद सर्द होने के मद्देनजर इस वर्ष ऊनी/गर्म कपड़े पहनकर परीक्षार्थियों को परीक्षा कक्ष में जाने दिया गया, लेकिन इसके पूर्व उनकी सूक्ष्मता से जांच की गई। साथ ही दिव्यांगों की सुविधा के लिए एक-एक व्हील चेयर परीक्षा केन्द्रों पर रखी गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*