Sun 15 05 2022
Home / Breaking News / राजेश्वरी मंदिर परिसर में पंद्रह दिवसीय मेला भी आरंभ
राजेश्वरी मंदिर परिसर में पंद्रह दिवसीय मेला भी आरंभ

राजेश्वरी मंदिर परिसर में पंद्रह दिवसीय मेला भी आरंभ

शाजापुर। चैत्र नवरात्रि का शुभारंभ शनिवार को घट स्थापना के साथ हुआ और मां की आराधना एवं दर्शन के लिए अलसुबह से लेकर रात तक भक्तों का तांता नगर के देवी मंदिरों में लगा रहा। शहर के प्रसिद्ध मां राजराजेश्वरी मंदिर में कलेक्टर दिनेश जैन, भाजपा जिलाध्यक्ष अंबाराम कराड़ा ने सुबह घट स्थापना कर मां की महाआरती की। इसीके साथ मंदिर परिसर में लगने वाले 15 दिवसीय मेले का भी शुभारंभ हो गया। गौरतलब है कि मां भवानी की आराधना और भक्ति के पर्व नवरात्रि पर देवी मंदिरों में प्रतिदिन विभिन्न धार्मिक आयोजन किए जाएंगे। शक्ति की उपासना के पर्व चैत्र नवरात्रि पर मां आदिशक्ति के नौ स्वरूपों की पूजा की जाएगी। नवरात्रि के पहले दिन भक्तों ने मां शैलपुत्री स्वरूप की पूजा कर मंगलकामनाएं की। वहीं शहर के प्रसिद्ध मां राजराजेश्वरी मंदिर में रात 9 बजे मां की महाआरती कर प्रसादी का वितरण किया गया।
नौ दिनों तक चलेगा आराधना का दौर
उल्लेखनीय है नवरात्रि में प्रतिदिन उपवास रख कर दुर्गा सप्तशती और देवी का पाठ किया जाएगा। इन दिनों में किए गए इन पाठों का विशेष महत्व है। नवरात्रि के नौ दिनों में नौ ग्रहों की शान्ति पूजा की जाएगी और मां भवानी को मनाने और उनकी कृपा दृष्टि पाने के लिए मां के भक्तों द्वारा उपवास किए जाएंगे। वहीं कुछ भक्तों द्वारा अपनी मनोकामना पूर्ण कराने के लिए नंगे पैर रहकर भी मां की आराधना की जाएगी और भक्ति का यह दौर पूरे नौ दिनों तक चलेगा। शहर के रूपामाता मंदिर, मरीमाता मंदिर, बिजासन माता, चामुंडा माता, दुर्गा माता मंदिर, लालबाई-फूलबाई माता मंदिर सहित अन्य मंदिरों में प्रतिदिन मां का विशेष श्रंगार किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*