Mon 29 11 2021
Home / Breaking News / पुलिस रूलाती ही नहीं, हंसाती भी है
पुलिस रूलाती ही नहीं, हंसाती भी है

पुलिस रूलाती ही नहीं, हंसाती भी है

शाजापुर। गलत काम करोगे, किसी के लिए परेशानी बनोगे, धोखाधड़ी करोगे तो पुलिस से बुरा तुम्हारे लिए कोई नहीं, लेकिन अगर किसी के चेहरे पर मुस्कान लाओगे, अपने साथ दूसरों की सेहत का भी ख्याल रखोगे और पुलिस की मदद कर अच्छे नागरिक बनोगे तो पुलिस से अच्छा आपका कोई मित्र नहीं। क्योंकि पुलिस रूलाती ही नहीं हंसाती भी है।
यह कहना था आरआई विक्रमसिंह भदौरिया का, जो शुक्रवार को एबी रोड स्थित कौटिल्य एज्यूकेशन एकेडमी में अमृत महोत्सव के तहत आजादी की   75वी वर्षगांठ के तारतम्य में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। योग विधा में माहिर आरआई श्री भदौरिया ने बच्चों को प्रोत्साहित करते हुए तनाव मुक्त जीवन जीने के लिए योग की विधाओं के बारे में भी बच्चों को जानकारी दी। सुबेदार सत्येंद्रसिंह राजपूत ने कहा कि सपने कौन-कौन देखता है और कौन उसे पूरा करना चाहता है। यदि सपने पूरा करना चाहते हो तो जुनून रखो और हिम्मत से आगे बढ़ो। क्योंकि लोग आपकी डिग्री नहीं आपका मुकाम देखते हैं। यदि आज आप सफल हैं तो आप सब के लिए खास हो लेकिन असफल व्यक्ति का कोई नहीं होता। कार्यक्रम को प्रभारी कोतवाली टीआई अरविंदसिंह तोमर, मीना डावर ने भी संबोधित किया। जिन्होंने बच्चों को यातायात संबंधी जानकारी दी और उनकी जिज्ञासाओं का भी समाधान किया। इस अवसर पर विद्यालय संचालक ब्रजेश यादव, संचालिका शशि यादव, प्राचार्य नरेंद्रसिंह डोडिया, पंकज यादव, धर्मेंद्रसिंह डोडिया, राजेश पाटीदार, नरेंद्र सक्तावत, संजय चंद्रवंशी, शैलेंद्र सोलिया, जागृति जोशी, भरत भूषण, सुरेश मालवीय, हीरादास उदासी, रामकृष्ण पाटीदार, साधना जैन, सीमा जैन आदि उपस्थित थे। संचालन नीतिका पाटीदार ने किया।
21 से 31 तक जारी रहेंगे आयोजन
पुलिस मुख्यालय द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत 21 से 31 अक्टूबर तक विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन के आदेश स्थानीय पुलिस विभाग को दिए गए हैं। जिसके परिपालन में शुक्रवार को कौटिल्य एज्यूकेशन एकेडमी में कार्यक्रम का आयोजन कर बच्चों को आजादी का महत्व बताया गया।
होनहारों को दिए पुरस्कार
कार्यक्रम के अंतर्गत चित्रकला प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। जिसमें बच्चों उत्साह के साथ भाग लेते हुए अपनी कला का प्रदर्शन किया और देश को आजादी दिलाने के लिए अपने प्राणों की आहूति देने वाले देशभक्तों सहित बच्चों ने राष्ट्रभक्ति से ओतप्रोत चित्र बनाकर सभी को अपनी कला से परीचित करवाया। जिसके चलते कार्यक्रम के अंत में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*