Thu 19 05 2022
Home / Breaking News / विद्यालय के पूर्व छात्र विद्यालय की साख होते हैं-बीआरसीसी
विद्यालय के पूर्व छात्र विद्यालय की साख होते हैं-बीआरसीसी

विद्यालय के पूर्व छात्र विद्यालय की साख होते हैं-बीआरसीसी

शाजापुर। जिस प्रकार विद्यालय के उत्कृष्ट शिक्षकों से विद्यालय की पहचान होती है, उसी प्रकार किसी विद्यालय के पूर्व छात्र उस विद्यालय की साख होते हैं। जिनके नाम से उस विद्यालय को जाना जाता है। उक्त विचार शाजापुर बीआरसीसी रजनीश महिवाल ने शनिवार को वसंत पंचमी विद्यालय दिवस पर प्राथमिक विद्यालय विघ्नेश्वर नगर में पूर्व छात्रों के सम्मान समारोह कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही। कार्यक्रम के दौरान बीएसी दीपक शर्मा, संजय सोनी, जन शिक्षक लोकेश राठौर ने मां सरस्वती का पूजन कर विद्यालय दिवस आयोजन के संदर्भ में विद्यार्थियों के समक्ष अपने विचार रखे और विद्यालय परिसर में पौधारोपण कर उसे वायुदूत ऐप पर प्रविष्ट किया। इस अवसर पर संस्था प्रधान नीलम राठौर, माया आर्य, स्वास्थ्य विभाग की तरुणा शर्मा, अलका कराड़ा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रेखा मालवीय, आशा कार्यकर्ता गायत्री रघुवंशी आदि उपस्थित थे।
महर्षि विद्या मंदिर में धूमधाम से मनाया वसंत पंचमी
वसंत पंचमी के मौके पर शहर के बेरछा रोड स्थित महर्षि विद्या मंदिर स्कूल में विद्यार्थियों के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत संस्था प्राचार्य प्रकाशराम कन्याल, मनोज सक्सेना और संस्था के अन्य शिक्षक-शिक्षिकाओं के द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं गुरु पूजन कर की गई। इसके उपरांत विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रंगारंग प्रस्तुति दी। इस मौके पर संस्था प्राचार्य ने विद्यार्थियों से कहा कि जो आपने जीवन का लक्ष्य निर्धारित किया है उस लक्ष्य तक पहुंचने के लिए निरंतर लगने के साथ आगे बढ़ते रहें। प्रशासनिक अधिकारी सक्सेना ने कहा कि यह बसंती रंग युवाओं के लिए उल्लास का प्रतीक है। युवा इस समय उल्लास और उत्साह के साथ अपने सभी कार्यों को अंजाम देते हैं। इसीके साथ यह दिन विद्यार्थियों के लिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि विद्या की देवी मां सरस्वती का जन्मोत्सव बसंत पंचमी के रूप में हम मनाते हैं। कार्यक्रम के समापन पर विद्यालय परिसर में पौधा रोपण किया गया। इस अवसर पर शीलासिंह ने, शोभा जोशी, श्रुति शर्मा, सुजाता शर्मा, आस्था माथुर, ओमप्रकाश नागर, राजेश श्रीवास्तव, मोहित भावसार, राहुल गेहलोत, जितेंद्र प्रजापति सहित बड़ी संख्या में संस्था के अन्य शिक्षक शिक्षक और विद्यार्थी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*