Tue 17 05 2022
Home / Breaking News / अस्पताल परिसर में धरने पर बैठी नर्सें, जमकर की नारेबाजी
अस्पताल परिसर में धरने पर बैठी नर्सें, जमकर की नारेबाजी

अस्पताल परिसर में धरने पर बैठी नर्सें, जमकर की नारेबाजी

शाजापुर। अपनी 12 सूत्रीय मांगों को लेकर जिला अस्पताल की नर्सों ने आखिरकार अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी। बुधवार को अस्पताल की नर्सों ने शाजापुर जिला अस्पताल परिसर में धरना प्रदर्शन कर नारेबाजी की। हड़ताली नर्सों ने बताया कि उन्होने प्रदेश सरकार को ज्ञापन सौंपकर मांगें पूरा किए जाने को लेकर कई बार ज्ञापन सौंपा, लेकिन सरकार ने मांग पूरी नही की, जिसके चलते हड़ताल शुरू की गई है। हड़ताली नर्सों ने बताया कि उनकी सरकार से मांग है कि उचच स्तरीय वेतनमान 2 ग्रेड अन्य राज्यों की तरह मध्यप्रदेश में कार्यरत समस्त नर्सेस को दिया जाए, पुरानी पेंशन योजना लागू की जाए, कोरोनाकाल में शहीद हुई स्टॉफ नर्सेस के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति दिए जाने के साथ 15 अगस्त को राष्ट्रीय कोरोना योद्धा अवार्ड से सम्मानित किया जाए, कोरोनाकाल में शासन स्तर पर जितनी भी घोषणा की गई उन पर अमल नहीं किया गया है, ऐसे में कोविड-19 में नर्सेस को सम्मानित करते हुए अग्रिम 02 वेतनवृद्धि का लाभ उनके वेतन में लगाया जाए, 2018 में आदेश भर्ती नियमों में संशोधित करते हुए 70 प्रतिशत, 80 प्रतिशत एवं 90 प्रतिशत का नियम हटाया जाए एवं प्रतिनियुक्ति समाप्त कर स्थानान्तरण की प्रक्रिया शुरू की जाए, सरकारी कॉलेजों में सेवारत रहते हुए नर्सेस को उच्च शिक्षा हेतु आयु बंधन हटाया जाए और मेल नर्सेस को समान अवसर दिया जाए, कोरोनाकाल में अस्थाई रूप से भर्ती की गई नर्सेस को नियमित किया जाए, प्रायवेट कम्पनी के माध्यम से लगाई गई नर्सेस को भी उनकी योग्यता के अनुसार नियमित किया जाए, मध्यप्रदेश में कार्यरत नर्सेस को एक ही विभाग में समान कार्य के लिए समान वेतनमान दिया जाए, वर्षों से लम्बित पड़ी पदोन्नति को शुरू करते हुए नर्सेस की पदोन्नति की जाए और नर्सेस को डेजिग्नेशन प्रमोशन दिया जाए, मेल नर्सेस की भर्ती की जाए, स्वशासी में पदस्थ नर्सेस को 7वें वेतनमान का लाभ वर्ष 2018 के बजाय कर्मचारियों की भांति वर्ष 2016 से दिया जाए, शासकीय नर्सिंग महाविद्यालय में अध्ययनरत छात्राओं को कलेक्टर दर पर मानदेय दिया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*