Fri 03 12 2021
Home / Breaking News / नेशनल लोक अदालत में 04 करोड़ 97 लाख रुपए से अधिक के अवार्ड पारित
नेशनल लोक अदालत में 04 करोड़ 97 लाख रुपए से अधिक के अवार्ड पारित

नेशनल लोक अदालत में 04 करोड़ 97 लाख रुपए से अधिक के अवार्ड पारित

शाजापुर। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देशानुसार शाजापुर जिला मुख्यालय सहित शुजालपुर, आगर,  सुसनेर, नलखेड़ा न्यायालय परिसर में गतदिनों नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। सुबह 10.30 बजे नेशनल लोक अदालत का जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष सुरेन्द्र कुमार श्रीवास्तव के मार्गदशन में मां सरस्वती केे चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया गया। अदालत में 715 प्रकरण निराकृत हुए। वहीं 04 करोड़ 97 लाख 03 हजार 78 रुपए 60 पैसे से अधिक के आवार्ड पारित किए गए। लोक अदालत में 1319 से अधिक व्यक्ति लाभान्वित हुए।
गौरतलब है कि नेशनल लोक अदालत में जिले एवं तहसीलों को मिलाकर कुल 12 न्यायिक खण्डपीठ बनाई गई थीं।
आपराधिक शमनीय प्रकरण, परक्राम्य अधिनियम की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण, बैंक रिकवरी संबंधी मामले,  एमएसीटी प्रकरण, मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा प्रकरण, वैवाहिक प्रकरण, श्रम विवाद प्रकरण, भूमि अधिग्रहण, विद्युत एवं जल कर बिल संबंधी अन्य समस्त प्रकार के राजीनामा योग्य, प्री लिटिगेशन मुकदमा पूर्व आदि के कुल 7239 प्रकरणों को लोक अदालत में रखा गया। जिनमें से प्री-लिटिगेशन के 6073 प्रकरण रखे गए थे,, जिसमें से 466 प्रकरणों का निराकरण किया गया। इन प्रकरणों में 7005380 रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ। इसी प्रकार न्यायालय में 1166 लंबित प्रकरण को नेशनल लोक अदालत में रखा गया और इनमें से 249 लंबित प्रकरणों का निराकरण हुआ। इस प्रकार कुल 715 न्यायालयीन प्रकरणों में जिले/तहसीलों में राजीनामा करवाया गया और 04 करोड़ 97 लाख 03 हजार 78 रुपए 60 पैसे आवार्ड राशि वसूली गई। इस मौके पर न्यायाधीश सविता दुबे, रमा जंयत मित्तल, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव राजेन्द्र देवड़ा, मनोजकुमार शर्मा, बृजेष गोयल, धमेन्द्र सोनी, महेशकुमार माली, सुश्री हर्षिता सिंगार, श्रीमती प्रिन्सी अग्रवाल, नीरज अग्रवाल, सुश्री रूपम तोमर मौजूद थे।
पति-पत्नी के बीच हुआ समझौता
शाजापुर न्यायालय परिसर में आयोजित नेशनल लोक अदालत में जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुरेन्द्रकुमार श्रीवास्तव एवं सचिव राजेन्द्र देवड़ा के मार्गदर्शन में जिला न्यायालय में लंबित बाबूलाल सौराष्ट्रीय एवं पूजा सौराष्ट्रीय का हिन्दू मैरिज एक्ट के तहत तलाक के प्रकरण में समझौता कराया गया। उक्त प्रकरण परिवार न्यायालय में लंबित था जिसमें नेशनल लोक अदालत के माध्यम से समझौता कराया गया एवं दोनों पक्षों को एक-दूसरे के हाथों माल्यार्पण करवा कर एक साथ जीवन यापन करने हेतु स्वागत कर घर भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*