Mon 21 09 2020
Home / Shajapur News / महंगा हुआ तडक़ा, सभी मसालों के दामों में इजाफा
महंगा हुआ तडक़ा, सभी मसालों के दामों में इजाफा

महंगा हुआ तडक़ा, सभी मसालों के दामों में इजाफा

शाजापुर। खाद्य सामग्रियों के भावों को जैसे पंख लग गए हैं और दलहन से लेकर तेल, सब्जियां पहले ही लोगों की जेब का दिवाला निकाल रहे हैं तो वहीं इस वर्ष सब्जियों में डलने वाले मसालों के दाम भी आसमान छू रहे हैं। यही कारण है कि गतवर्ष 100 रुपए किलो बिकने वाली लाल खड़ी मिर्च की कीमत इस वर्ष 150 रुपए से लेकर 180 रुपए प्रति किलो पर जा पहुंची है। सब्जियों का स्वाद बढ़ाने वाले तकरीबन सभी मसाले पिछले साल की तुलना में दोगुने दाम पर जा पहुंचे हैं। जीरा, राई, हल्दी, हिंग और मिर्ची के साथ ही गरम मसाले के दाम भी आसमान पर जा पहुंचे हैं।  उल्लेखनीय है कि चोतरफा महंगाई की मार झेल रहे लोगों को अब सब्जियों में डाले जाने वाले मसालों के दामों ने भी परेशान कर रखा है। महंगी हुई सब्जी में अब तडक़ा देना भी महंगा हो गया है, याने अब सब्जी दाल का स्वाद भी बिगडऩे वाला है, क्योंकि एक भी सामग्र्री एसी नही है जिनके दामों में स्थिरता बनी हुई है। वहीं कुछ मसाले तो गत वर्ष की तुलना में दोगुने से भी अधिक दाम पर जा पहुंचे हैं। हल्दी खुले और पेक में अलग-अलग दामों पर मिल रही है जिसकी कीमत 150 रुपए से लेकर 200 रुपए किलो तक है।
सब्जियों के दामों में उछाल बरकरार
गौरतलब है कि मंडी में आवक कम होने की वजह से हरी सब्जियों के दामों में भी उछाल बना हुआ है। यही कारण है कि 10 रुपए किलो बिकने वाली सब्जियां वर्तमान में 60 रुपए से 80 रुपए किलो के दाम पर बिक रही हैं। हालांकि भिंडी के दामों में गिरावट देखने को मिल रही है और इस भाव अब 20 रुपए किलो के आसपास जा पहुंचा है। जबकि मैथी की भाजी के दाम 100 रुपए किलो के आसपास पर टिके हुए हंै। हरा धनिया भी 10 रुपए का 50 ग्राम बेचा जा रहा है। आलू के दाम 40 रुपए और गिलकी 80 रुपए किलो के भाव पर बिक रही है। साथ ही प्याज के दाम 30 रुपए के करीब हैं। लहसुन के दाम पर नजर डाली जाए तो इसका भाव 130 रुपए पर जा पहुंचा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*