Sat 27 11 2021
Home / Breaking News / ना सोशियल डिस्टेंसिंग ना कई के मास्क, हो गया कार्यक्रम
ना सोशियल डिस्टेंसिंग ना कई के मास्क, हो गया कार्यक्रम

ना सोशियल डिस्टेंसिंग ना कई के मास्क, हो गया कार्यक्रम

 शासन की योजनाओं का लाभ आम जनता को समय पर मिलना चाहिये। योजनाओं के क्रियान्वयन में किसी तरह की लापरवाही न हो। लापरवाहों के विरूद्ध अनुशास्नात्मक कार्रवाई होगी। यह बात आज जिला योजना समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश के लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग राज्यमंत्री तथा जिला प्रभारी मंत्री श्री बृजेन्द्र सिंह यादव ने कही। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री श्री इंदरसिंह परमार, विधायक कालापीपल श्री कुणाल चौधरी कलेक्टर श्री दिनेश जैन, पुलिस अधीक्षक श्री पंकज श्रीवास्तव एवं श्री अम्बाराम कराड़ा सहित जिला योजना समिति के सदस्य श्री नवीन शिंदे, श्री मदनसिंह राजपूत, विधायक प्रतिनिधि शाजापुर श्री आशुतोष शर्मा तथा सुसनेर श्री अजयसिंह चौहान सहित अन्य गणमान्य नागरिक एवं अधिकारी भी उपस्थित थे।

      जिला प्रभारी मंत्री श्री यादव ने कहा कि सभी विभाग आगामी होने वाली बैठकों में पूरी तैयारी के साथ जानकारी लेकर आएं। योजनाओं एवं विकास कार्यों का क्रियान्वयन समय पर हो। जरूरतमंदों को शासन की योजनाओं का लाभ मिले। जनप्रतिनिधियों द्वारा बताए गए कार्यों का क्रियान्वयन समय पर करें और जनप्रतिनिधियों को अवगत भी कराएं। इस अवसर पर राज्यमंत्री श्री परमार ने भी विभागीय कार्यों की समीक्षा करते हुए सभी अधिकारियों को कार्यों को समय पर पूरा करने के निर्देश दिये। इसके पूर्व कलेक्टर श्री दिनेश जैन ने बैठक के एजेंडे से अवगत कराया तथा जिले की सामान्य जानकारी दी। बैठक में स्वास्थ्य, कृषि, विद्युत वितरण कंपनी, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी तथा लोक निर्माण विभाग के कार्यों की प्रगति की समीक्षा हुई।

कार्यक्रम के दौरान विधायक कुणाल चोधरी ने जब शासकीय कार्यो पर मंत्री महोदय से प्रश्न किया तो मंत्री महोदय द्वारा अधिकारियों से प्रश्न का उत्तर जानना चाहा, तब अधिकारी कुछ जवाब नहीं दे पाए और बगली झांकते नज़र आए। जनता को कोरोना की वैक्सिन लगवाने का कहने और सावधानी बरतने की सलाह देने वाली भा.ज.पा. के कई नुमाईंदे बिना मास्क और सोशियल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते नज़र आए लेकिन ना तो आम जनता की तरह किसी की रसीद कटी ना किसी पर कार्यवाही हुई। शायद आम जनता के लिए सारे नियमों को बनाने वालों पर कोविड के नियमों के पालन नहीं करने की छूट है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*