Fri 03 12 2021
Home / Breaking News / अभिभाषकों के अथक प्रयास से मिले बिछड़े दंपति, लोक अदालत में समझौता कराकर बसाया दोबारा घर
अभिभाषकों के अथक प्रयास से मिले बिछड़े दंपति, लोक अदालत में समझौता कराकर बसाया दोबारा घर

अभिभाषकों के अथक प्रयास से मिले बिछड़े दंपति, लोक अदालत में समझौता कराकर बसाया दोबारा घर

लोक अदालत में समझौता कराकर बसाया दोबारा घर, न्यायाधीशों ने पौधा देकर सुखमय जीवन का दिलाया प्रण

शाजापुर। अभिभाषकों के अथक प्रयासों से पारिवारिक विवाद में बिछड़े दंपति एक बार फिर मिल गए और परिवार में खुशियां छा गईं। जिला न्यायाधीश सुरेंद्रकुमार श्रीवास्तव के निर्देशन में जिला न्यायालय में अधिक से लोगों को लाभांवित करने हेतु शनिवार को नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। अदालत में बैंक, विद्युत वितरण कंपनी, नगरपालिका सहित अन्य सभी विभागों के शिविर लगाकर आपसी सुलह और समझौते के आधार पर शीघ्र और सुलभ न्याय पक्षकारों को राजीनामा के माध्यम से दिलवाया गया। साथ ही न्यायालय में लंबित प्रकरणों एवं मोटर दुर्घटना, चेक अनादरण, पति पत्नि के आपसी विवाद में घरेलु हिंसा, भरण पोषण, दहेज प्रथा आदि में आपसी सुलह कर समझौता कराया गया। इसी प्रकार पिछले तीन वर्षों से आपसी मतभेद के चलते नाजिश बी पति इमरान खां अलग-अलग रह रहे थे। विवाद के चलते इनकी दो पुत्रियां भी माता-पिता के प्यार से वंचित रह रहीं थी और परिवार की खुशियों पर मानों गृहण लग गया था। नाजिश बी ने अपने अभिभाषक सईद पठान बेरछा के माध्यम से दहेज प्रताडऩा हेतु एवं महिलाओं के संरक्षण अधिनियम 2005 में घरेलु हिंसा के विभिन्न प्रकरण, दाम्पत्य जीवन की पुन: स्थापना एवं भरण पोषण की राशि अदायगी हेतु न्यायालय में वाद दायर किया था। उक्त सभी प्रकरण न्यायलय में विचारणीय हेतु नियत थे, लेकिन उक्त प्रकरणों के न्यायालय में चलने से विगत 3 सालों से पति-पत्नी साथ में नही रहते हुए अलग-अलग रह रहे थे, जिससे बच्चों को भी माता-पिता का संरक्षण नहीं मिल पा रहा था, परंतु लोक अदालत में विशेष न्यायाधीश श्रीमती जसविन कोर, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव राजेंद्र देवड़ा के मार्गदर्शन एवं जज पति-पत्नी नीरज अग्रवाल, श्रीमती प्रिंसी गुप्ता अग्रवाल, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी की समझाइश से एवं अभिभाषक सईद पठान, जावेद पठान, सावेद पठान के अथक प्रयासों से न्यायालय परिसर में लोक अदालत में पति-पत्नी के बीच समझौता हो गया। इस दौरान वन विभाग की ओर से दंपति को पौधे वितरित किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*