Sun 05 04 2020
Home / Breaking News / केंद्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संगठन ने की कड़ी सजा की मांग
केंद्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संगठन ने की कड़ी सजा की मांग

केंद्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संगठन ने की कड़ी सजा की मांग

– उज्जैन और अलीगढ़ में हुई घटना का जताया विरोध
शाजापुर. अलीगढ़ और उज्जैन में मासूम बच्चियों से अमानवीय कृत्य करने वाले आरोपियों को कड़ी सजा दिलाए जाने के उद्देश्य से केंद्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संगठन ने मंगलवार को कलेक्टर डॉ. वीरेंद्रसिंह रावत को एक ज्ञापन सौंपा।

ज्ञापन में बताया कि अलीगढ़ ढाई वर्ष की बच्ची के साथ अमानवीय घटना घटित कर उसकी हत्या कर दी गई। इसी तरह उज्जैन में भी ७ जून को ईंट भट्टे पर काम करने वाले मजदूर की बेटी को उठाकर ले गए और अमानवीय कृत कर उसकी हत्या कर दी गई। जिनके दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी। केंद्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजकरण चौहान ने कहा कि इस तरह की घटना देश में आए दिन देखने को मिल रही है। इन घटनाओं के कारण देश की बच्चियां, बहन, बेटियां सुरक्षित नहीं है। ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए शासन को सख्ती से कदम उठाना चाहिए। उन्होंने ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि ऐसे असामाजिक तत्वों के साथ सख्ती से पेश आए और फास्ट टेक कोर्ट के माध्यम से जल्द से जल्द सजा सुनाए। इस दौरान संगठन के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य क्षितिज शर्मा, महिला जिलाध्यक्ष सोनिया भावसार, प्रदेश संगठन मंत्री कैलाश फुलेरिया, प्रदेश संगठन महामंत्री रामबलवान मीणा, संभागीय उपाध्यक्ष शैलेंद्रसिंह सेंगर, सदस्य मुस्तफा अली, राहुल परमार, प्रदीप फुलेरिया आदि उपस्थित थे।
नवागत कलेक्टर का किया स्वागत
ज्ञापन देने के बाद केंद्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजकरण चौहान के नेतृत्व में नवागत कलेक्टर डॉ. वीरेंद्रसिंह रावत का स्वागत किया गया। इस दौरान संगठन के पदाधिकारी व सदस्य मौजूद थे। संगठन अध्यक्ष तेजकरण चौहान ने कलेक्टर रावत को शहर के विभिन्न मुद्दों से अवगत कराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*