Mon 13 07 2020
Home / Breaking News / भाजपा कार्यालय में जमकर चले लात घूंसे,
भाजपा कार्यालय में जमकर चले लात घूंसे,

भाजपा कार्यालय में जमकर चले लात घूंसे,

भाजपा कार्यालय में जमकर चले लात घूंसे, विधायक के समर्थकों ने भाजपा युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष को पीटा
विधायक सहित पांच भाजपाईयों के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज
फोटो- थाने पर शिकायत करते युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष देथल।
शाजापुर। अनुशासन का दम भरने वाले भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारियों की दाल जूतों में बटती नजर आ रही है। यही कारण है कि पार्टी के जिम्मेदार पद पर आसीन नेता आपस में लात-घंूसे चलाकर अपने पद की गरिमा को भी धूमिल करने में पीछे नही हट रहे हैं। पार्टी की साख और पद की मर्यादा को तारतार करने का मामला भाजपा जिला कार्र्यालय पर देखने को मिला जहां पर युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष के साथ विधायक और उनके समर्थकों ने फेसबुक पर की गई पोस्ट को टेग करने को लेकर मारपीट कर दी और इसके बाद मामला थाना कोतवाली जा पहुंचा।

गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव का समय नजदीक आ पहुंचा है और इसीके चलते भाजपा द्वारा कार्यकर्ता और पदाधिकारियों को एकजुट करने के लिए दिन-प्रतिदिन बैठक आयोजित की जा रही हैं। चुनावी तैयारियों को लेकर गुरुवार को भी शाजापुर भाजपा जिला कार्यालय पर बैठक का आयोजन किया गया जिसमें शामिल होने पहुंचे भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष सुनील देथल के साथ विधायक अरूण भीमावद और उनके समर्थकों ने गाली-गलौच करते हुए मारपीट शुरू कर दी। मारपीट के पीछे का कारण फेसबुक पर की गई पोस्ट को लेकर बताया जा रहा है। हालांकि इस पूरे मामले को लेकर भाजपा जिलाध्यक्ष नरेंद्रसिंह बैस का कहना है कि पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं के बीच फेसबुक पर की गई टिप्पणी को लेकर विवाद होने की सूचना मिली थी, परंतु मारपीट जैसी कोई घटना सामने नही आई है। जबकि मामले में देथल की शिकायत पर पुलिस ने विधायक और उनके समर्थकों पर मारपीट की धाराओं में प्रकरण पंजीबद्ध किया है।
विधायक और उनके समर्थकों पर मुकदमा दर्ज
विधायक अरूण भीमावद और उनके समर्थकों पर मारपीट का आरोप लगाते हुए भाजपा जिला युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष सुनील देथल थाने पर जा पहुंचे। देथल का आरोप है कि वे भाजपा जिला कार्यालय पर आयोजित बैठक में शामिल होने के लिए आए थे, तभी विधायक भीमावद और उनके समर्थक आए और कहने लगे कि तू ने फेसबुक पर खबर को टेग क्यों किया और इतना कहने के बाद उन्होने मारपीट करना शुरू कर दी। पुलिस ने देथल की शिकायत पर विधायक भीमावद सहित प्रज्ञेश शर्मा, आशीष नागर, गोविंद नायक, स्वामी सोनी, विरेंद्र पाटीदार  के खिलाफ धारा 323, 294, 506, 34 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।