Tue 30 11 2021
Home / Breaking News / ग्राम बेहरावल में बनने वाली स्मार्ट गौशाला का भूमिपूजन
ग्राम बेहरावल में बनने वाली स्मार्ट गौशाला का भूमिपूजन

ग्राम बेहरावल में बनने वाली स्मार्ट गौशाला का भूमिपूजन

शाजापुर। गौशालाओं का संचालन अपनत्व के भाव से करना होगा, तब ही यह स्मार्ट गौशाला कहलाएंगी। यह बात प्रदेश के स्कूल शिक्षा स्वतंत्र प्रभार एवं सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री इंदरसिंह परमार ने बुधवार को ग्राम बेहरावल में एक करोड़ 49 लाख 98 हजार रुपए लागत से 500 पशुधन रखने की क्षमता की बनने वाली स्मार्ट गौशाला के भूमिपूजन कार्यक्रम में कही। साथ ही राज्यमंत्री परमार ने ग्राम बेहरावल के नरसिंहधाम पहुंच मार्ग समतलीकरण लागत 5 लाख 48 हजार का लोकार्पण भी किया। इस दौरान क्षेत्रीय विधायक कुणाल चौधरी भी मौजूद थे। भूमि पूजन के मौके पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए राज्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की योजनाओं का समग्र रूप से क्रियान्वयन कर क्षेत्र को विकास की ओर ले जाने का सतत् प्रयास किया जा रहा है। उन्होने निर्मित होने वाली गौशाला के संबंध में कहा कि राज्य सरकार गौशाला के लिए राशि दे रही है, किन्तु यदि इसका संचालन सरकारी तौर पर किया जाएगा तो कभी भी स्मार्ट नहीं बन पाएगी, किन्तु यदि गौशाला हमारी है और इसे अपनत्व के भाव से संचालित करेंगे तो गौशाला निर्बाध रूप से चलेगी और स्मार्ट बनेगी। सरकार का प्रयास है कि गौशालाओं से निकलने वाले गोबर और गौ मूत्र से आर्थिक लाभ प्राप्त किया जाए, ताकि गौशालाओं का संचालन इस राशि से हो सके। उन्होने कहा कि गौशाला संचालन के लिए ग्राम सभा समिति बनाएं। समिति अपनत्व भाव से गौशाला का संचालन करें। मंत्री ने कहा कि स्थानीय विद्यालय में फर्नीचर की कमी को पूरा करेंगे। उन्होने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत वर्ष 2023 तक प्रत्येक घर तक जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। इस दौरान उन्होने नई शिक्षा नीति पर विस्तार से प्रकाश डाला। वहीं क्षेत्रीय विधायक कुणाल चौधरी ने कहा कि क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं वर्तमान के राज्यमंत्री परमार के साथ क्षेत्र के विकास के लिए काम करेंगे। इस मौके पर उन्होने स्मार्ट गौशाला के लिए बधाई दी। जनपद पंचायत प्रशासकीय समिति अध्यक्ष ममता संजय गामी ने संबोधित करते हुए क्षेत्र से संबंधित आवश्यक कार्यों से अवगत कराया।
००००००००००

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*