Wed 27 05 2020
Home / Breaking News / फिरौती मांगने वाले का जमानत आवेदन निरस्त
फिरौती मांगने वाले का जमानत आवेदन निरस्त

फिरौती मांगने वाले का जमानत आवेदन निरस्त

न्यायालय श्रीमान अमित रंजन समाधिया द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश महोदय शुजालपुर द्वारा आरोपी अजय पिता जगदीश राजपूत उम्र 36 वर्ष निवासी लसुल्दिया रामनाथ थाना कुरावर जिला राजगढ़ का जमानत आवेदन पत्र दिनांक 7 अप्रेल 2020 को अतिरिक्त डीपीओ श्री संजय मोरे शुजालपुर के तर्कों से सहमत होते हुए निरस्त किया गया।
जिला मीडिया प्रभारी  सचिन रायकवार एडीपीओ शाजापुर ने बताया कि दिनांक 2 मार्च 2020 को  फरियादी सतीश पुष्पद नगर पालिका शुजालपुर में इंजीनियर के पद पर उस समय पदस्थ राहुल गुप्ता निवासी पचोर की स्विफ्ट डिजायर कार एमपी 09 सी वाय 7032 पर ड्राइवर था। वह राहुल गुप्ता को रोजाना की तरह छोड़कर कार को जटाशंकर महादेव मंदिर के पास खाली मैदान में खड़े कर गाड़ी में लेटा था उसी समय 4 लोग आए और गाड़ी में घुस गए। उन लोगों के मुंह पर कपड़ा बंधा था। उसमें से तीन लोगों ने उसे पकड़ लिया और एक ने कनपटी पर कट्टा अड़ा  दिया और मारपीट कर गाड़ी की चाबी मांगी तो उसने डरकर चाबी दे दी तथा एक व्यक्ति गाड़ी चलाने लगा तीन व्यक्तियों ने उसे पकड़ रखा था फिर चारों व्यक्ति उसे पचोर रोड तरफ लाए और ग्राम उंडाई के रास्ते पर करीब 3 किलोमीटर दूर ले जाकर गाड़ी खड़ी कर दी और दो व्यक्तियों ने उसे नीचे उतारकर नीम के पेड़ के नीचे बैठा दिया तथा दो व्यक्ति उसकी गाड़ी को लेकर चले गए उसके बाद वही लोग एक सिल्वर कलर की स्विफ्ट कार जिसके नंबर प्लेट पर mp04 के बाद सिल्वर कलर की टेप चिपकी थी उसे बैठाकर उसके दोनों हाथ रस्सी से बांधकर उसे कुरावर ले गए वहां चार-पांच किलोमीटर दूर जंगल में ले जाकर बैठा दिया व उसके साथ मारपीट की तथा उससे उसके साहब का फोन आने पर तलेन काम से आने का कहना तथा उनको लेने के लिए  उसका दोस्त अपनी  गाड़ी से लेकर आएगा जिसमें  बैठाकर  तलेन आ जाना वहां से पचोर चलने की कहना । फिर शाम करीब 6:00 बजे इंजीनियर राहुल गुप्ता का फोन आया तो सतीश ने उन लोगों के बतायें अनुसार वही बातें राहुल से बोली। रात करीब 8 बजे   वह 2 लोग राहुल गुप्ता इंजीनियर को लेकर गाड़ी से आए। राहुल गुप्ता से 60 लाख रूपये की फिरौती की मांग की गई थी इतने पैसे नहीं दे सकता का कहने पर उसके पास हाथ में पहने हुई एक सोने की अंगूठी, गले में सोने की चेन, पर्स में रखे ₹3000 तथा एटीएम कार्ड  राहुल गुप्ता ने उन्हें दे दिया था। एटीएम कार्ड से ₹17000 उन्होंने निकाल लिए थे। उक्त घटना की रिपोर्ट की जाने पर  थाना शुजालपुर मंडी में अपराध क्रमांक 75/2020 पर  धारा 365, 384, 506, 34 भारतीय दंड विधान के अंतर्गत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था।
आरोपी अजय के द्वारा ही अपराध के लिए सह आरोपी  विजेंद्र को देशी  कट्टा दिया गया था तथा अजय द्वारा अन्य लोगों के साथ मिलकर नगर निगम के सब इंजीनियर का व्यपहरण करते हुए उनके साथ लूट कारित की गई होने तथा उक्त अपराध दिन में कार्यालयीन समय  में करने का भी प्रयास किया गया होने से  अपराध को गंभीर तम प्रकृति का बनाते हुए आरोपी अजय एवं अन्य आरोपी गण के आपराधिक दुस्साहस को  तथा ऐसे अपराधों का समाज पर गंभीर प्रभाव  पड़ता है  को देखते हुए आरोपी अजय का जमानत आवेदन पत्र माननीय न्यायालय द्वारा निरस्त किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*