Sun 20 09 2020
Home / Breaking News / कट्टे से फायर करने वाले आरोपी को जेल भेजा
कट्टे से फायर करने वाले आरोपी  को जेल भेजा

कट्टे से फायर करने वाले आरोपी को जेल भेजा

कट्टे से फायर करने वाले आरोपी का जमानत आवेदन निरस्त
जिला मीडिया प्रभारी सचिन रायकवार एडीपीओ शाजापुर ने बताया कि, अतिरिक्त डीपीओ शुजालपुर श्री संजय मोरे द्वारा प्रदत्त जानकारी अनुसार न्यायालय श्रीमान द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश महोदय श्री अमित रंजन समाधिया शुजालपुर द्वारा आरोपी अर्जुन पिता चंदर सिंह गुर्जर  निवासी बंजारी अवंतिपुर बड़ोदिया जिला शाजापुर का जमानत आवेदन निरस्त किया गया।
दिनांक 15 मई 2020 को दोपहर 3:00 बजे करीब बने सिंह के घर पर सीताराम व भगवान सिंह आए थे उन्होंने जगदीश व सूरज सिंह को बनेसिंह के घर बुलाया, बुलाने पर जगदीश , सूरज सिंह गए थे।  वहीं पर रामचंदर , रतन सिंह और गोकुल सिंह भी थे सूरज सिंह और जगदीश से रामचंदर बोला कि तुमने हमारे नदी वाले खेत का रास्ता रोक दिया है हमारी प्याज खराब हो रही है। इसी बात पर माखन सिंह ने सूरज सिंह को ईंट फेंक कर मारी तभी *अर्जुन सिंह ने कट्टे से फायर किया जिससे जगदीश के दोनों हाथों पर एवं गले पर छर्रे  की चोट लगी*।  घटना की रिपोर्ट फरियादी जगदीश गुर्जर ने थाना अवंतिपुर बड़ोदिया पर कि  थी।
आज दिनांक 21 मई 2020 को आरोपी अर्जुन का जमानत आवेदन पत्र माननीय न्यायालय द्वारा अभियोजन की ओर से अतिरिक्त डीपीओ श्री संजय मोरे द्वारा वीडियो  कांफ्रेंसिंग के माध्यम से  किए गए तर्कों से सहमत होते हुए निरस्त किया गया।

जिला मीडिया प्रभारी सचिन रायकवार एडीपीओ शाजापुर ने बताया कि, अतिरिक्त डीपीओ शुजालपुर श्री संजय मोरे द्वारा प्रदत जानकारी अनुसार न्यायालय श्रीमान जेएमएफसी महोदय शुजालपुर द्वारा आरोपी संजय उर्फ संजू पिता फतेह सिंह उम्र 26 वर्ष निवासी टेकरापूरा गेरखेड़ी को जेल वारंट बनाकर जिला जेल शाजापुर  भेजा गया।
दिनांक 20 मई 2020 को सुबह 8:00 बजे फरियादी लखन अपने मकान के सामने खड़ा था तभी आरोपी संजय आया और उसने कहा कि तू ने ₹500 देने का कहा था तो ₹500 दे तो फरियादी ने उससे कहा कि रोहित ने पैसे देने से मना कर दिया है इसी बात को लेकर संजय ने फरियादी को मां बहन की गंदी गंदी गालियां दी और उसे जातिसूचक शब्दों का बखान किया, गाली देने से मना करने पर उसके साथ मारपीट की व जान से मारने की धमकी दी। घटना की रिपोर्ट थाना शुजालपुर मंडी पर की गई । थाने के द्वारा अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*