Sat 14 05 2022
Home / Breaking News / सांसद ने किया जिला अस्पताल का निरीक्षण, फीवर क्लीनिक बंद होने पर जताई नाराजगी
सांसद ने किया जिला अस्पताल का निरीक्षण, फीवर क्लीनिक बंद होने पर जताई नाराजगी

सांसद ने किया जिला अस्पताल का निरीक्षण, फीवर क्लीनिक बंद होने पर जताई नाराजगी

शाजापुर। कोरोना की दूसरी लहर में हमने कई समस्याओं का सामना किया था। संभावित तीसरी लहर ना आए, लेकिन यदि इस प्रकार की स्थिति बनती है तो उससे निपटने की हमारी व्यवस्था मुस्तैद होना चाहिए। मरीजों को ऑक्सीजन और अन्य दवाइयों की कमी महसूस नहीं होना चाहिए। अस्पताल में डॉक्टर पूरी मुस्तैदी के साथ अपनी ड्यूटी करें और कोरोना संक्रमण रोकने हेतु पूरा प्रशासन अपने सभी संसाधनों का भरपूर उपयोग करें। कोरोना के सस्पेक्टेड संदिग्ध मरीज को  तुरंत कोरेंटिन करें तथा उचित जांच और इलाज के माध्यम से जल्दी से जल्दी स्वस्थ होकर मरीज अपने घर पहुंचे यह  हमारा यह प्रयास होना चाहिए। डाक्टर यह बातें जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान सांसद महेंद्रसिंह सोलंकी ने मौजूद डॉक्टरों से कही। उन्होने कहा कि अस्पताल स्टाफ मरीजों के साथ अच्छा व्यवहार करें, क्योंकि मरीज की आधी बीमारी हमारे अच्छे व्यवहार से ही ठीक हो जाती है। निरीक्षण के दौरान सांसद ने ऑक्सीजन प्लांट को शुरू करवा कर उसकी सप्लाई की व्यवस्था वार्ड तक किस प्रकार होगी यह देखा।
फीवर क्लीनिक बंद पाए जाने पर जताई नाराजी
अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे सांसद सोलंकी ने समस्त वार्डों की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान वे फीवर क्लीनिक भी पहुंचे और व्यवस्थाओं को देखा। सोलंकी ने फीवर क्लीनिक के 4 बजे बंद पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होने कहा कि फीवर क्लीनिक ज्यादा देर तक खुला होना चाहिए। 24/7 का सर्कुलर जब आ चुका है तब भी फीवर क्लीनिक शाम 4 बजे ही कैसे बंद हो गया। फीवर क्लीनिक का समय बढ़ाने और साथ ही वार्डों में नर्सिंग स्टॉफ के मौजूद रहने हेतु प्रबंधन को निर्देशित किया। उन्होने कहा कि कोई ना कोई नर्सिंग स्टॉफ हर समय वार्ड में उपस्थित होना चाहिए। इस दौरान सीएमएचओ डॉ राजू निदारिया, सिविल सर्जन डॉ बीएस मैना, उमेश टेलर, विजय जोशी, नवीन राठौर, आशीष नागर, सोनू सोलंकी, अशोक जाधव सहित कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*