Mon 21 09 2020
Home / Shajapur News / कोविड संक्रमित मरीजों के लिए अलग एम्बुलेंस रिजर्व
कोविड संक्रमित मरीजों के लिए अलग एम्बुलेंस रिजर्व

कोविड संक्रमित मरीजों के लिए अलग एम्बुलेंस रिजर्व

मुसीबत की घड़ी में निसंकोच डायल करें 108

कोरोना काल में भी हर प्रकार की आपातकालीन स्थिति में तत्पर है एंबुलेंस
शाजापुर। कोरोना महामारी के बीच भी हर तरह की आपातकालीन स्थिति के लिए एम्बुलेंस 108 के कर्मचारी पूरी तरह से तत्पर दिखाई दे रहे हैं। वहीं अन्य दुर्घटनाओं के मरीजों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए एम्बुलेंस की अलग व्यवस्था की गई है। जबकि कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए भी अलग से एम्बुलेंस रिजर्व है। ऐसे में मुसीबत की घड़ी में निसंकोच होकर 108 सेवा का लाभ लिया जा सकता है। एम्बुलेंस 108 सेवा के प्रदेश मार्केटिंग मैनेजर तरुणसिंह परिहार ने बताया कि कोरोना काल के समय में भी 108 आपातकालीन एम्बुलेंस सेवा तत्परता के साथ जनसेवा का कार्य कर रही है और नि:शुल्क प्री हॉस्पिटल केयर 108 आपातकालीन एम्बुलेंस सेवा के माध्यम से मरीज को जल्द से जल्द नजदीकी सरकारी अस्पताल में पहुंचाया जा रहा है, ताकि अस्पताल में उस मरीज का आगे का इलाज सुचारू रूप से किया जा सके। परिहार ने बताया कि जीवनरक्षा हेतु एम्बुलेंस में सभी मूलभूत उपकरण मौजूद हैं। इन उपकरणों में एईडी मशीन, अम्बुबैग, ब्लड प्रेशर नापने हेतु उपकरण एवं जीवन रक्षक ऑक्सीजन प्रदान करने की उपयुक्त व्यवस्था है। साथ ही आपातकालीन दवाईयां भी उपलब्ध हैं जिनका उपयोग प्रशिक्षित इमरजेंसी मेडिकल तकनीशियन ईएमटी द्वारा विशेषज्ञ चिकित्सक के मार्गदर्शन में मरीज के उपचार एवं जीवन रक्षा हेतु किया जाता है। उसके साथ साथ जिला 108 एम्बुलेंस प्रभारी मयूर शर्मा एवं संभागीय अधिकारी फैजान खान द्वारा निरंतर रूप से एंबुलेंस का परीक्षण किया जा रहा है और आवश्यकता के हिसाब से दवाईयों की आपूर्ति की जा रही है।
भ्रम नही पालें, पूरी तरह से सुरक्षति है एम्बुलेंस 108
कोरोना काल में लोगों के बीच भ्रम फैल गया है कि आपातकालीन स्थिति में 108 की सेवा लेना घातक साबित हो सकता है जबकि ऐसा नही है, क्योंकि एम्बुलेंस 108 की सेवा पूरी तरह से सुरक्षित है। मध्य प्रदेश के मार्केटिंग मैनेजर तरुणसिंह का कहना है कि एम्बुलेंस की सेवा लेने वाले किसी भी व्यक्ति को संक्रमण ना फैले इसके लिए शाजापुर जिले में संचालित 6 एंबुलेंस को दो भागों में बांटा गया है। जिसमें से 1 एंबुलेंस सिर्फ कोरोना मरीजों को अस्पताल पहुंचाने का काम कर रही है और 5 एंबुलेंस अन्य आपातकालीन स्थिति में सेवा दे रही हैं। ऐसे में लोग भ्रम नही पालें कि उन्हे एम्बुलेंस सेवा लेने से किसी तरह का संक्रमण फैल सकता है। परिहार ने बताया कि एम्बुलेंस 108 के 5 वाहन शाजापुर में प्रेगनेंसी, हार्ट अटैक, एक्सीडेंट सहित अन्य आपातकालीन सेवाओं के लिए तैयार हैं। जबकि कोरोना संदिग्ध मरीज को हॉस्पिटल लाने के साथ उसकी रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उनको हॉस्पिटल से घर पर छोडऩे का कार्य अलग एम्बुलेंस से किया जा रहा है। ऐसी विकट परिस्थिति में शाजापुर जिले में 108 एम्बुलेंस के माध्यम से 100 से अधिक कोरोना से संबंधित संदिग्ध और संक्रमित मरीजों को चिकित्सालय भिजवाया गया और पुन: उनके घर भिजवाया गया है। साथ ही साथ बाकि आपातकालीन चीफ कमप्लेंटो के  मरीजों जैसे एक्सीडेंट के 472, प्रेग्नेंसी के 10726 एवं इसके अतिरिक्त  2401 अन्य प्रकार के मरीज। कुल जनवरी से जून तक कुल 14037 मरीजों को तत्काल सेवा देकर उचित समय पर अस्पताल पहुंचाया गया है।
आपातकाल में डायल करें 108
किसी भी तरह के आपातकाल में 108 सेवा का नि:शुल्क रूप से लाभ लिया जा सकता है। एम्बुलेंस 108 के प्रोजेक्ट हैड, एकीकृत रैफरल ट्रांसपोर्ट प्रणाली मध्य प्रदेश जितेन्द्र शर्मा ने बताया कि आपातकालीन स्थिति में 108  एंबुलेंस कर्मचारी प्रशासन के साथ मिलकर मानव सेवा का कार्य पूरी प्रतिबद्धता और सावधानियों के साथ कर रहे हैं। इसके तहत गंभीर मरीजों को लेकर आने वाले 108 स्टॉफ को कोरोना से बचाव के लिए और उनकी सुरक्षा हेतु सभी एम्बुलेंस को आवश्यक वस्तुए भी उपलब्ध कराई गई हैं। कर्मचारियों को एन 95 फेस मास्क, हैंड ग्लव्स, सेनिटाइजर,  पीपीई किट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराई जा रही है और एम्बुलेन्स को प्रत्येक केस करने के तुरंत बाद सैनिटाइज भी किया जा रहा है। साथ ही साथ बाकि सारी सावधानियों एवं निर्देशों का पालन किया जा रहा है, ऐसे में इस सेवा का लाभ लेने वाले किसी भी व्यक्ति को संक्रमण का खतरा नही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*