Fri 03 12 2021
Home / Breaking News / अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई, ठैकेदार को ब्लेक लिस्टेड कर करें गिरफ्तार
अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई, ठैकेदार को ब्लेक लिस्टेड कर करें गिरफ्तार

अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई, ठैकेदार को ब्लेक लिस्टेड कर करें गिरफ्तार

– कालीसिंध नदी पर बने स्टाॅपडेम पहुंचे कांग्रेसियों ने किया प्रदर्षन
– सात दिन का दिया समय, इसके बाद करेंगे आंदोलन
शाजापुर। कालीसिंध नदी पर बने स्टाॅपडेम के घटिया निर्माण को लेकर कांग्रेस ने मोर्चा संभाल लिया है। बुधवार को जिला कांग्रेस कमेटी ने स्टाॅपडेम पहुंचकर वहां धरना प्रदर्षन कर नारेबाजी की। इसके बाद कांग्रेसियों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा जिसमें जिला कांग्रेस कमेटी ने संबंधित ठेकेदार और जवाबदार अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।
बुधवार को जिला कांग्रेस अध्यक्ष योगेंद्रसिंह बंटी बना के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने कालीसिंध नदी पर बने स्टाॅपडेम पहुंचकर प्रदर्षन किया। श्री सिंह ने कहा कि भाजपा की सरकार द्वारा किसानों से झूठे वायदे कर उनकी भावनाओ से खिलवाड़ किया जा रह है जिसे हम कतई बर्दाष्त नहीं करेंगे। हमारी मांग है कि जिस ठेकेदार या कंपनी ने यह निर्माण किया है उसे ब्लेक लिस्टेड किया जाए और ठेकेदार को गिरफ्तार किया जाए। वहीं जल संसाधन विभाग के वो अधिकारी जिनकी निगरानी में यह काम हुआ है उनके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई हो। साथ ही इसे तोड़कर इसका दोबारा से पुर्ननिर्माण किया जाए ताकि किसानों को राहत मिल सके। यदि ऐसा नहीं होता है तो कांग्रेस पार्टी चुप नहीं बैठेगी और लगातार इसके लिए आवाज उठाई जाएगी। इसके बाद श्री सिंह के नेतृत्व में राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन एसडीएम प्रकाष कस्बे को ज्ञापन सौंपा गया। इस अवसर पर जिला कांग्रेस प्रवक्ता पं. गोविंद शर्मा, मोहन बड़ोदिया जनपद अध्यक्ष अजबसिंह पंवार, भेरूलाल सौराष्ट्रीय, गुलाना ब्लाॅक अध्यक्ष हिरेंद्रसिंह जादौन, भैरूलाल सौराष्ट्रीय, लाला रहमान, शैलेंद्र जोषी, सुमेरसिंह परमार, दरबारसिह जलोदा, विकास सिसौदिया, रामनारायण कुषवाह आदि मौजूद थे।
सात दिन में नहीं हुई कार्रवाई तो होगा बड़ा आंदोलन
श्री सिंह ने कहा कि अभी तो हम लोग यहां शांतिप्रिय तरीके से अपनी बात कहने आए हैं, लेकिन यदि प्रषासन ने हमारी बात नहीं मानी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो कांग्रेस का हर कार्यकर्ता और पदाधिकारी भले ही यहां पानी भर जाए हम स्टाॅपडेम की दीवार पर नजर आएंगे और आंदोलन करेंगे। वहीं प्रदेष के पूर्व मुखिया व राज्यसभा सदस्य दिग्विजयसिंह भी यहां आएंगे इस का अवलोेकन कर लोकायुक्त तक यह मामला ले जाया जाएगा। क्योंकि इसमें साफ नजर आ रहा है कि भ्रष्टाचार हुआ है।
भोपाल कलेक्टर व डीआईजी को करें निलंबित
जिलाध्यक्ष श्री सिंह ने भोपाल में पूर्व मुख्यमंत्री के साथ हुई घटना की भी घोर निंदा की है। उन्होंने इस मामले को लेकर भी राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन एसडीएम प्रकाष कस्बे को ज्ञापन सौंपा जिसमें बताया गया कि दिग्विजयसिंह द्वारा नियम विरूद्ध औद्योगिक क्षेत्र की भूमि अपात्र संस्था को आवंटन किया गया है। जिसे लेकर वे गांधीवादी तरीके से विरोध कर रहे थे, लेकिन वहां उन पर व कांग्रेस पार्टी के अन्य नेताओं व कार्यकर्ताओं पर बर्बर तरीके से बल प्रयोग किया गया जो भापा सरकार का पुलिसिया हमला है। जिसमें उनके साथ कई कार्यकर्ता भी घायल हुए हंै। जिला कांग्रेस कमेटी ने राज्यपाल से मांग की है कि कलेक्टर अविनाष लवानिया, डीआईजी इरषाद वाली को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर हाईकोर्ट की निगरानी में उच्च स्तरीय जांच की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*