Sat 27 11 2021
Home / Breaking News / छापामार कार्रवाई के तीन दिन बाद भी नही हुई एफआईआर
छापामार कार्रवाई के तीन दिन बाद भी नही हुई एफआईआर

छापामार कार्रवाई के तीन दिन बाद भी नही हुई एफआईआर

अवैध डीजल कारोबारी को बचाते नजर आ रहे जिम्मेदार, मामले में लीपापोती की तैयारी
शाजापुर। बंसी टाकिज में अवैध डीजल के कारोबार की जिम्मेदारों ने पुष्टि करने के साथ ही मामले में लीपापोती भी शुरू कर दी है। यही कारण है कि जांच रिपोर्ट आने के बाद भी अवैध रूप से अत्यंत ज्वलनशील पदार्थ का शहर के बीचो-बीच लोगों की जान के साथ खिलवाड़ कर कारोबार करने वाले के खिलाफ अब तक प्रकरण दर्ज नही कराया गया है। कार्रवार्ई में देरी से विभागीय अधिकारियों की कार्यशैली संदेहास्पद नजर आ रही है। उल्लेखनीय है कि प्रशासन की बिना अनुमति के शाजापुर शहर के बंसी टाकिज में अवैध रूप से हजारों लीटर डीजल का अवैध रूप से कारोबार किया जा रहा था, इस पर खाद्य आपूर्ति विभाग, राजस्व विभाग और पुलिस विभाग द्वारा संयुक्त रूप से 27 सितंबर को बंसी टाकिज में छापामार कार्र्रवाई करते हुए करीब 5 हजार लीटर अवैध डीजल जब्त किया गया था। विभागीय अधिकारियों ने पहले तो उक्त डीजल को केमिकल बताया और जांच शुरू कर दी। वहीं अब जांच रिपोर्ट में यह खुलासा हो गया कि उक्त केमिकल डीजल ही था, लेकिन मामले में अवैध कारोबारी विपिन पिता आरके नवाब के खिलाफ अब तक कोई कार्रवार्ई विभाग द्वारा नही की गई है। इधर सूत्रों का कहना है कि अधिकारी मामले को ठंडे बस्ते में डालकर रफा-दफा करने की जुगत लगा रहे हैं।
हो सकता था बड़ा हादसा
गौरतलब है कि डीजल-पेट्रोल जैस अत्यंत ज्वलनशील पदार्थों का रिहायशी इलाकों में बड़ी मात्रा में संग्रहण करना पूरी तरह से जोखिमभरा और गैर कानूनी है, लेकिन इसके बाद भी बंसी टाकिज में लोगों की जान के साथ खिलवाड़ करते हुए हजारों लीटर डीजल का भंडारण कर विक्रय किया जा रहा था। ऐसे में किसी भी दिन बड़ा हादसा हो सकता था। हालांकि लंबे समय से प्रशासन की बिना अनुमति अवैध रूप से चल रहे कारोबार का जिम्मेदार अधिकारियों ने भांडाफोड़ तो कर दिया, परंतु जिम्मेदार अधिकारी ही अब अवैध कारोबारी को बचाने का प्रयास करते नजर आ रहे हैं। यही वजह है कि छापामार कार्रवाई के तीन दिन बीत जाने के बाद भी कारोबारी के खिलाफ प्रकरण दर्ज नही कराया गया है।
इनका कहना है
बंसी टाकिज में अवैध रूप से डीजल का ही विक्रय किया जा रहा था, जिस केमिकल को जब्त किया गया था वह अवैध डीजल हैै। फिलहाल मामले में कारोबारी के खिलाफ एफआईआर दर्र्ज नही कराई गई है। वरिष्ठों से चर्चा के उपरांत ही आगे की कार्रवार्ई की जाएगी।
-एचआर सुमन, खाद्य आपूर्ति अधिकारी, शाजापुर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*