Sat 14 05 2022
Home / Breaking News / उल्टा घोड़ा, उल्टा मसान, भूत भाग जा उल्टे पांव के मंत्र से करता रहा भाई का इलाज
उल्टा घोड़ा, उल्टा मसान, भूत भाग जा उल्टे पांव के मंत्र से करता रहा भाई का इलाज

उल्टा घोड़ा, उल्टा मसान, भूत भाग जा उल्टे पांव के मंत्र से करता रहा भाई का इलाज

शाजापुर। दुनिया जहां तरक्की की नित्य ऊंचाइयों की बुलंदी छू रही है और लोग चांद तक पहुंच चुके हैं, लेकिन जिले के कुछ लोग अब भी अंधविश्वास के मकडज़ाल से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला शहर के बंसी टाकिज चौराहा पर देखने को मिला जब एक भाई ने अपने भाई का अंध विश्वास के चलते इलाज कराने से इनकार कर दिया और घंटों तड़पते भाई को स्वस्थ्य करने के लिए तंत्र-मंत्र करता रहा। मंगलवार सुबह करीब 11 बजे बंसी टाकिज चौराहा पर एक युवक दौरा पडऩे बेसुद होकर गिर गया। युवक को तड़पता देख आसपास के लोगों ने एम्बुलेंस 108 को फोन कर दिया। सूचना मिलने पर एम्बुलेंस 108 के ईएमटी उमेश तंवर मौके पर पहुंचे और युवक को इलाज के लिए ले जाने लगे, तभी उसका भाई आ गया और एम्बुलेंस कर्मचारियों से बदसलूकी करने लगा। जब एम्बुलेंस कर्मचारियों ने इलाज करने की जीद की तो बीमार युवक का भाई भूत-प्रेत की बात कहते हुए एम्बुलेंस कर्मचारियों से विवाद करने पर उतारू हो गया जिसके बाद एम्बुलेंसकर्मी बिना इलाज किए ही लौटने पर मजबूर हो गए।
भाग जाओ भूत है इसे, इलाज से काम नही होगा
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बंसी टाकिज चौराहा पर मिर्गी का दौरा पडऩे से महूपुरा चौराहा निवासी युवक बेसुद होकर तड़पता हुआ गिर पड़ा। इस पर एम्बुलेंस को फोन किया गया। सूचना मिलने पर पर एम्बुलेंस 108 का स्टॉफ मौके पर भी पहुंचा लेकिन बीमार भार्ई ने यह कहकर एम्बुलेंस कर्मचारियों को लौटा दिया कि भाग जाओ भूत है इसे, इलाज से कुछ नही होने वाला। एम्बुलेंस कर्मचारियों ने युवक को बहुत समझाने की कोशिश की, परंतु वह अंधविश्वास के चलते एम्बुलेंस स्टॉफ के साथ विवाद करने लगा जिस पर कर्मचारियों को वापस लौटना पड़ा।
उल्टा घोड़ा, उल्टा मसान, भूत भाग जा उल्टे पांव
बंसी टाकिज के समीप इलाज के अभाव में युवक तड़पता रहा, लेकिन उसका भाई इलाज कराने के बजाय तंत्र-मंत्र करता रहा। उल्टा घोड़ा, उल्टा मसान, भूत भाग जा उल्टे पांव जैसे मंत्र पड़ते हुए अपने भाई को ठीक करने का प्रयास करता है जिसकी वजह से मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। इधर जब युवक स्वस्थ्य नही हुआ तो उसका भाई उसे रिक्शा में बैठाकर अस्पताल ले जाने की बजाय अपने घर ले गया। एम्बुलेंस कर्मचारियों ने बताया कि लाख समझार्ईश के बाद भी युवक का उसके भाई ने इलाज नही कराया और झगड़ा करने लगा, जिस पर बिना इलाज किए ही हमे लौटना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*