Thu 09 04 2020
Home / Breaking News / (ब्रह्माबाबा) का अव्यक्ती दिवस मनाया गया
(ब्रह्माबाबा) का अव्यक्ती दिवस मनाया गया

(ब्रह्माबाबा) का अव्यक्ती दिवस मनाया गया

आज प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय शिव वरदानी धाम हरायपूरा शाजापुर में  संस्थान के संस्थापक दादा लेखराज (ब्रह्माबाबा) का अव्यक्ती दिवस मनाया गया . जिसे ब्रह्माकुमारी संस्थान द्वारा विश्व शान्ति दिवस के रूप में विश्व के लगभग 140 देशो में 9500 से भी अधिक शाखा प्रशाखाओ  मनाया जाएगा .

   इस अर्थ स्थानीय शाखा शिव वरदानी धाम हरायपूरा शाजापुर में …..
 दिनांक 01/01/2020 से ही प्रति  दिन विश्व शान्ति हेतु  4 घंटे का राजयोग (मेडिटेशन) दो घंटे सूबह 7:30 से 9:30  दो घंटे शाम 5:30 से 7:30 तक संस्थान से जुड़े भाई बहनें अपने समय अनुसार कर रहे है ….जिसका  समापन आज
    सुबह 6:30 से 8:30 राजयोग व सत्संग के बाद  परमात्मा शिव बाबा को भोग स्वीकार कराया …
     फिर सुबह 10:30 से 12:30 विशेष राजयोग जिसमें सभी को संगठित योगाभ्यास किया  इसके बाद ब्रह्मा भोजन का आयोजन रखा गया जिसमें बड़ी संख्या में संस्थान से जुड़े भाई बहने व नगर के गणमान्य नागरिकों ने भाग लिया  ….
    कार्यक्रम में ब्रह्माकुमारी प्रतिभा बहने ने विश्व में शान्ति बनी रहे इस हेतु अपने वक्तव्य में कहाँ की हम सभी मनुष्य आत्माएं एक निराकार ज्योति बिंदु स्वरूप  पिता परमात्माँ शिव की सन्तान है और आपस में आत्मिक रिश्ते से हम सभी भाई भाई है और ईश्वर. अल्लाह. खुदा. गॉड. भगवान किसी भी नाम से हम पुकारे वह ऊपर वाला एक ही है इसीलिए कहा  भी जाता है की ऊपरवाला देखा रहा है …
    सम्पूर्ण विश्व ही एक परिवार है हम सभी मिलकर अपने शुभ संकल्पों शुभ विचारो से सभी के लिये यही शुभ भावनाओ का दान दें जो आपस के मत भेद भुलाकर हम एकता का पाठ पढ़े इस लक्ष्य को लेकर ब्रह्माकुमारी संस्थान की स्थापना निराकार परमात्म शिव ने सन 1936 में सिंध हैदराबाद में की जिसका बाद में स्थानान्तरण माउण्ट आबू राजस्थान में हुआ जो आज संस्थान का अंतरराष्ट्रीय मुख्यालय है  ….
   की  दादा लेखराज जी जिनको परमात्मा ने प्रजापिता ब्रह्मा बाबा की संज्ञा दी और ब्रह्मा के लिये ही कहाँ जता है के ब्रह्मा ने संकल्पों से श्रेष्ठ सृष्टि  की रचना की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*