Thu 06 08 2020
Home / Shajapur News / 28 जुलाई के न्यायालीन फैसले-शाजापुर
28 जुलाई के न्यायालीन फैसले-शाजापुर

28 जुलाई के न्यायालीन फैसले-शाजापुर

आपराधिक अपील में आरोपी की 2 वर्ष की सजा बरकरार
शाजापुर। आपराधिक अपील में भी आरोपी की न्यायालय ने 2 वर्ष की सजा बरकरार रखी है। जिला मीडिया प्रभारी सचिन रायकवार एडीपीओ शाजापुर ने बताया कि न्यायालय चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश शुजालपुर द्वारा आरोपी ऋषि पिता रमेशचन्द्र उम्र 27 वर्ष निवासी शुजालपुर मण्डी को अधीनस्थ न्यायालय द्वारा धारा 354 भादवि में 2 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 100 रुपए का अर्थदण्ड एवं धारा 323 भादवि में 6 माह का सश्रम कारावास तथा 100 रुपए अर्थदण्ड के दण्डादेश एवं दोषसिद्धि की पुष्टि की गई है। सहायक जिला मीडिया प्रभारी संजय मोरे ने बताया कि 18/09/2014 को शाम साढ़े 07 बजे पीडि़ता को आरोपी के परिवार की महिला ने घर बुलाया तो वह उनके घर गई। वहां पर किसी अन्य महिला को भेज देने की बात को लेकर पीडि़ता के साथ गाली-गलौच कर थप्पड़-मुक्कों से मारपीट की और झुमाझटकी की। मेडिकल रिपोर्ट में पीडि़ता की चोंट के आधार पर थाना शुजालपुर सिटी पर मामला पंजीबद्ध किया गया। अपराध के अनुसंधान के दौरान पीडि़ता ने आरोपी द्वारा उसके साथ अश्लील हरकत करना भी बताया। पुलिस शुजालपुर सिटी द्वारा उक्त अपराध में विभिन्न धाराओं का इजाफा किया गया था।
००००००००००००००००००
जमानत की शर्तों का दुरूपयोग करने पर आरोपी का जमानत आवेदन निरस्त
शाजापुर। जमानत की शर्तों का दुरूपयोग करने पर आरोपी का न्यायालय ने जमानत आवेदन निरस्त कर दिया है। देवेन्द्र मीणा डीपीओ शाजापुर ने बताया कि न्यायालय द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश एवं लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 शाजापुर द्वारा आरोपी बबलू उर्फ बलराम बागरी पिता नन्दूलाल बागरी निवासी आरोलिया थाना मोमन बड़ोदिया का जमानत आवेदन पत्र निरस्त किया गया है। आरोपी के विरूद्ध धारा 363, 366, 376 (2) आईपीसी एवं धारा 3/4 पाक्सो एक्ट के अंतर्गत थाना मोमन बड़ोदिया पर अपराध पंजीबद्ध किया गया था। आरोपी को दिनांक 17 जुलाई 2019 को उच्च न्यायालय खण्डपीठ इंदौर के पारित आदेश के पालन में जमानत का लाभ प्रदान किया गया था। प्रकरण में आरोपी विचारण के दौरान 3 फरवरी 2020 को अनुपस्थित होने के कारण न्यायालय द्वारा आरोपी के जमानत मुचलके जब्त कर आरोपी के विरूद्ध गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। आरोपी अन्य अपराध में जेल में बंद होने से मंगलवार को प्रोडक्शन वारंट से आहूत किया गया।
००००००००००००००००००
गोवंश का अवैध परिवहन करने वाले आरोपियों का पुलिस रिमांड
शाजापुर। अवैध रूप से गोवंश का परिवहन करने वाले आरोपी का न्यायालय ने पुलिस रिमांड स्वीकार किया है। शैलेंद्र जीनवाल एडीपीओ शाजापुर ने बताया कि न्यायालय मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट शाजापुर द्वारा आरोपी खुर्शीद पिता गुलाब मोहम्मद उम्र 22 वर्ष निवासी इस्लामपुरा जिला टोंक राजस्थान, मुजाहिद पिता इब्राहिम 22 वर्ष इस्लामपुरा जिला टोंक राजस्थान का दो दिन का पुलिस रिमाण्ड स्वीकार किया गया है। आरोपियों को गोवंश के अवैध रूप से परिवहन करने के मामले में कोतवाली पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार किया था। पुलिस ने आरोपियों को न्यायालय में पेश कर रिमांड मांगा जिसे न्यायालय ने स्वीकार किया।
००००००००००००००००
स्थाई वारंटी को जेल भेजा
शाजापुर। स्थाई वारंटी को न्यायालय ने जेल भेजा। शैलेंद्र जीनवाल एडीपीओ शाजापुर ने बताया कि न्यायालय जेएमएफसी संजीवकुमार पालीवाल शाजापुर द्वारा आरोपी गोपाल पिता मांगीलाल फूलमाली निवासी खतिया मोहल्ला  सारंगपुर का जेल वारंट बनाकर जिला जेल शाजापुर भेजा गया है। आरोपी के विरूद्ध धारा 11 घ पशु क्रूरता का मामला न्यायालय में लंबित है। आरोपी के विरुद्ध दिनांक 06.08.2019 को न्यायालय द्वारा स्थाई गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। थाना कोतवाली शाजापुर पुलिस द्वारा आरोपी को गिरफ्तार कर जेएमएफसी न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय द्वारा आरोपी का जेल वारंट बनाकर जिला जेल शाजापुर भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*