Sat 04 04 2020
Home / Breaking News / कोरोना के चलते बंद रहा शहर, जिले में धारा 144 के कड़ाई से पालन करने के निर्देश
कोरोना के चलते बंद रहा शहर, जिले में धारा 144 के कड़ाई से पालन करने के निर्देश

कोरोना के चलते बंद रहा शहर, जिले में धारा 144 के कड़ाई से पालन करने के निर्देश

अनावश्यक रूप से सडक़ों पर घूम रहे लोगों पर सख्ती हुई पुलिस, लाठी से पीटा
शाजापुर। कोरोना संक्रमण के चलते सोमवार को शहर बंद होने के बाद भी कुछ लोग सडक़ों पर घूमते नजर आए।  अनावश्यक रूप से सडक़ों पर घूम रहे लोगों को समझाइश रास नहीं आई तो पुलिस ने उन पर सख्ती दिखाई और ट्रैफिक पॉइंट पर कुछ लोगों को डंडे भी मारे। विश्वभर में कोरोना ने कहर बरपा रखा है और इसीके चलते मध्यप्रदेश में भी हाई अलर्ट है, जिसके चलते 9 जिलों में लॉक डाउन कर दिया गया है। वहीं शाजापुर जिला प्रशासन ने धारा 144 लागू कर उसे सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए हैं, जिसके चलते सोमवार को शहर पूरी तरह से बंद रहा। हालांकि किराना, दूध और सब्जियों की दुकानों को इस प्रतिबंध से मुक्त रखा गया। साथ ही दोपहर तक भी जब लोग अनावश्यक रूप से सडक़ों पर घूमने से बाज नही आए तो पुलिस ने उन पर सख्ती दिखाई और ट्रैफिक पॉइंट पर कुछ लोगों को लाठी से पिटाई कर खदेड़ा।
सूचना तंत्र मजबूत करने के निर्देश
राजस्व, पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में अपना सूचना तंत्र मजबूत करें। बाहर से आने वाले लोगों की जानकारी जुटाएं। यदि कोई व्यक्ति विदेश से आया हो या अन्य राज्यों से आया हो तो उस पर नजर रखें। उक्त निर्देश कलेक्टर डॉ वीरेन्द्रसिंह रावत ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों की आकस्मिक बैठक लेकर दिए। बैठक में कलेक्टर डॉ रावत ने कहा कि बाहर से आने वालों पर कड़ी नजर रखें। कोरोना वायरस का संदेह होने पर तत्काल व्यक्तियों को आइसोलेशन वार्ड अथवा क्वारेंटाइन में रखें। आइसोलेशन वार्ड एवं क्वारेंटाइन की संख्या बढ़ाएं। सभी निजी नर्सिंग होम में एक-एक कक्ष को आइसोलेशन वार्ड बनवाएं। जरूरत पडऩे पर निजी चिकित्सालयों के अधिग्रहण का प्रस्ताव भी दें। सीएमएचओ एम्बुलेन्स एवं कन्ट्रोल रूम का नम्बर सार्वजनिक करें। खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी उपभोक्ताओं को उचित मूल्य की दुकानों से एक साथ तीन-तीन माह का खाद्यान्न प्रदान करवाएं। खाद्यान्न लेने के लिए थम्ब मशीन पर अंगूठा नहीं लगवाएं। सभी दुकानों पर उपभोक्ताओं की भीड़ नहीं होने दें। इस दौरान कलेक्टर ने कहा कि किसी भी समय आपात स्थिति निर्मित होती है तो जिले को लॉकडाउन करने के लिए आवश्यक तैयारियां रखें। दूध, किराना, सब्जियों आदि आवश्यक वस्तुओं की दुकानें सुचारू रूप से संचालित रहें। मेडिकल दुकानों पर मास्क एवं सेनेटाइजर सहित अन्य दवाईयों की कालाबाजारी न हो। सभी विभागों के अधिकारियों को कलेक्टर ने अपने-अपने वाहनों की जानकारी देने के लिए भी निर्देशित किया है। पुलिस अधीक्षक पंकज श्रीवास्तव ने कहा कि सभी पुलिस अधिकारी जिले में लागू धारा 144 का पालन कराएं। कहीं भी अनावश्यक भीड़ इक_ी नहीं होने दें। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक पंकज श्रीवास्तव, शुजालपुर अनुविभागीय अधिकारी विवेककुमार, अतिरिक्त कलेक्टर मंजूषा राय, जिला पंचायत सीईओ शिवानी वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आरएस प्रजापति, अनुविभागीय अधिकारी शाजापुर यूएस मरावी, एसडीओपी एके उपाध्याय, सीएमएचओ डॉ प्रकाशविष्णु फुलम्ब्रीकर, संयुक्त कलेक्टर वीपीसिंह सहित पुलिस, चिकित्सा तथा अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*